जम्मू कश्मीर में बीजेपी ने रचा इतिहास, कुल 41 शहरों पर किया कब्ज़ा। कांग्रेस 23 और 18 शहरों में इंडिपेंडेंट आगे
         Date: 20-Oct-2018

जम्मू कश्मीर के इतिहास में बीजेपी ने तमाम शहरी निकाय चुनाव मे ऐतिहासिक प्रदर्शन किया है। जम्मू और कश्मीर, दोनों ही डिवीजन में बीजेपी सबसे आगे है। सबसे ज्यादा चौंकाने वाले आंकड़े कश्मीर घाटी के हैं यहां कुल 46 शहरों में से सबसे ज्यादा 15 शहरों पर बीजेपी का कब्ज़ा होगा। जबकि कांग्रेस 14 शहरों के निकायों पर अपनी सत्ता कायम करेगी। 5 शहरों में इंडिपेंडेंट सबसे आगे हैं। घाटी में बीजेपी की झोली में जाने वाले शहरों में साउथ कश्मीर के शोपियां, पुलवामा, अनंतनाग, कुलगाम जिलों में हैं। यहां बीजेपी ने कुल 103 वार्ड्स पर जीत हासिल की है। जबकि कांग्रेस ने 115 वार्ड्स पर कब्जा किया है। कांग्रेस द्वारा जीते गये शहरी निकाय चुनाव में लेह, लदाख औऱ श्रीनगर शामिल हैं। बाकी 85 सीटें इंडिपेंडेंट्स की झोली में गई हैं। इन आकंड़ों में अनंतनाग शहरी निकाय का रिजल्ट शामिल नहीं है।
 
 
 
वहीं जम्मू डिवीज़न में भी इस बार बीजेपी की ही तूती बोली है। कुल 81 शहरों में से बीजेपी ने जम्मू समेत कुल 41 शहरी निकाय की सत्ता हासिल कर ली है। जबकि कांग्रेस 22 शहरों में आगे है। बाकी 18 शहरों में इंडिपेंडेंट उम्मीदवार बाज़ी मारे हुए हैं। यहां सत्ता के लिए खींचतान देखना भी दिलचस्प है। जम्मू डिबीज़न में कुल 520 वार्ड्स में से 212 पर बीजेपी, 110 पर कांग्रेस औऱ 185 वार्ड्स पर इंडिपेंडेंट्स ने जीत हासिल की है। जिसमें पैंथर्स पार्टी जैसी छोटी-मोटी पार्टियां भी शामिल हैं।
 
 

 
 
गौरतलब है आर्टिकल 35ए के मुद्दे पर पीडीपी औऱ नैशनल कांफ्रेंस ने चुनाव बहिष्कार करते हुए चुनाव में हिस्सा नहीं लिया था। लेकिन चुनाव का ये परिमाण इन पार्टियों समेत अलगाववादियों के मुंह पर एक करारा तमाचा है।