दीपिका राजावत का शर्मनाक बयान- Kashmiri Pundit Exodus को बताया आशीर्वाद
         Date: 19-Nov-2018

 
 
कठुआ रेप केस से बाहर किये जाने के बाद दीपिका राजावत शायद किसी भी तरह मीडिया में बने रहना चाहती है। इसीलिए दीपिका राजावत ने कश्मीरी पंडितों के नरसंहार और पलायन पर ऐसा शर्मनाक बयान दे डाला, कि जो अब तक जम्मू कश्मीर में अलगाववादी देते रहे हैं। अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट में दीपिका राजावत ने लिखा कि कश्मीरी पंडितों के लिए पलायन एक आशीर्वाद साबित हुआ। आज कश्मीरी पंडित अच्छी तरह से बसे हुए हैं।
 
 
 
 
 
अपने ट्वीट में दीपिका ने एक WELL PLANNED EXODUS को माइग्रेशन बताकर कश्मीरी पंडितों के दर्द का मजाक भी उड़ाया। दरअसल कठुआ रेप केस से बाहर किये जाने के बाद दीपिका लिबरल जमात के ज्यादातर लोगों ने किनारा कर लिया था, जो अभी तक दीपिका को हीरो की तरह पेश करते आ रहे हैं। यहां तक उमर अब्दुल्ला ने भी दीपिका राजावत को खूब खरा जवाब दिया था। पासा पलटता देख दीपिका ने बिना किसी संदर्भ या कहानी के एक ट्वीट दे मारा। साथ ही टैग किया ‘’फेमस लिबरल वीमेन विक्टिम कार्ड प्लेयर’’ कविता कृष्णन को। 
 
शायद मामले की गंभीरता को देख कविता कृष्णन ने अब दीपिका राजावत के बयान को रीट्वीट तो नहीं किया, लेकिन इस शर्मनाक बयान पर एक शख्स द्वारा सवाल उठाये जाने पर कविता कृष्णन वीमेन विक्टिम कार्ड खेलने से नहीं चूकी।
 
 

 
 
 
बहरहाल दीपिका राजावत के इस बयान पर प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गयी। देखना ये है कि दीपिका के इस बयान के पक्ष में कितने लोग खड़े होते हैं।
 
 
 
 
 
 
दीपिका हंगामा खड़ा करने का मकसद तो कामयाब हो गयीं, अब देखना बरखा दत्त का समर्थन वो हासिल कर पाने में कामयाब हो पाती है कि नहीं, क्योंकि बरखा दत्त ने दीपिका राजावत को हीरो साबित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। और हाल ही में एक पुरानी न्यूज क्लिप में बरखा दत्त पर कश्मीरी पंडितों ने सवाल खड़े किये थे। जिसमें बरखा एक पीस टू कैमरा करते वक्त कश्मीरी पंडितों के पलायन को कथित रूप से जस्टिफाई करने की कोशिश कर रही थी। लिहाजा दीपिका राजावत बरखा के बयान को एक कदम आगे बढ़कर जस्टिफाई करती दिखाई दे रही हैं।
 
 
 
 

 
बरखा दत्त के साथ वीमेन इंपॉवरमेंट पर ज्ञान देती दीपिका राजावत