POJK से होते हुए पाकिस्तान-चीन के बीच शनिवार से शुरू होगी बस सर्विस, भारत ने जताया कड़ा एतराज़
         Date: 02-Nov-2018

 
 
3 नवंबर यानि शनिवार को चीन औऱ पाकिस्तान के बीच बस सर्विस शुरू होने जा रही है। ये बस लाहौर से ताशकुग़रन-काश्गर के बीच चलेगी। ये बस सर्विस CPEC यानि चीन-पाकिस्तान इकॉनोमिक कॉरिडोर के तहत चलेगी। लेकिन भारत ने दोनों देशों के सामने इस पर कड़ा एतराज़ जताया है। क्योंकि ये बस पाकिस्तान अधिक्रांत जम्मू कश्मीर की सड़क से होते हुए जायेगी। जोकि संवैधानिक रूप से भारत का हिस्सा है। लिहाजा भारत विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा है कि 1963 में चायना-पाकिस्तान बाउंड्री एग्रीमेंट को नहीं मानता। लिहाजा पाकिस्तान-चीन के बीच चलने वाली बस सर्विस को भारत की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता पर हमला माना जायेगा।
 

 
लाहौर और ताशकुगरन-काश्गर के बीच प्रस्तावित रूट-
 
लाहौर - इस्लामाबाद - मानसेहरा - बेशम – चेलस* – गिलगित* - सोस्त* - खुंजेरब पास* – ताशकुग़रन
* POJK का हिस्सा
 
 
 
भारतीय विदेश मंत्रालय का आधिकारिक बयान। 
 
 
 
 
दरअसल पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक प्रस्तावित बस सर्विस लाहौर से चीन के ताशकुगरन के बीच चलेगी। जोकि POJK के गिलगित-बल्तिस्तान से होकर जायेगी। भारत का मूल विरोध भी इसी बात को लेकर है। चूंकि ये हिस्सा मूलतः भारत का है, तो कैसे पाकिस्तान औऱ चीन यहां से बस सर्विस शुरू कर सकते हैं। गौरतलब है कि POJK के स्थानीय लोग भी सीपेक यानि चीन-पाकिस्तान इकॉनोमिक कॉरिडोर करते रहे हैं। ऐसे में भारत का एतराज पूरी तरह से जायज है।