बीजेपी को रोकने के लिए लिए पीडीपी-नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेंस मिलकर बनायेंगे सरकार?
         Date: 21-Nov-2018

 
 
जम्मू कश्मीर में राजनीतिक हवा का रूख एकदम बदलने लगा है। राज्य में बीजेपी के बढ़ते कदमों को रोकने के लिए पीडीपी, नेशनल कांफ्रेंस औऱ कांग्रेस मिलकर सरकार बनाने की तैयारी चल रही है। कांग्रेंस की सेंट्रल लीडरशिप ने इस एलायंस को बाहर से समर्थन देने की घोषणा कर दी है। गुरूवार से पहले इसकी घोषणा की जा सकती है।
 
 
 
जम्मू कश्मीर विधानसभा, कुल संख्या- 87
 
पीडीपी- 28, बीजेपी- 25
नेशनल कांफ्रेंस- 15, कांग्रेस- 12, अन्य- 7
 
सरकार के लिए जरूरी आंकड़ा- 44
 
 
 
गौरतलब है कि अगले महीने राज्यपाल शासन के 6 महीने का समय खत्म हो रहा है। ऐसे में अगर चुनी हुई सरकार नहीं बनती है तो राज्य में राष्ट्रपति शासन लगना तय है। इधर बीजेपी समर्थन के साथ पीपल्स कांफ्रेंस के सज्जाद लोन ने थर्ड फ्रंट बनाने की तैयारी शुरू कर थी। कहा ये जा रहा था कि सज्जाद लोन पीडीपी और कांग्रेस के विधायकों को तोड़कर सरकार बनाने की दावेदारी पेश कर सकते हैं। सोमवार पीडीपी के सीनियर लीडर मुज़फ्फर बेग ने भी थर्ड फ्रंट में जाने की घोषणा कर दी थी।
 
 
बीजेपी की इस राजनीतिक कोशिश से घबराकर अचानक पीडीपी, एनसी और कांग्रेस के गठबंधन की तैयारी तेज हो गयी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने एक आधिकारिक बयान देकर गठबंधन को लेकर बातचीत की पुष्टि की है।
 
 
पत्रकारों से बात करते गुलाम नबी आजाद
 
 
हालांकि नये गठबंधन में मुख्यमंत्री कौन होगा, इसपर एनसी और पीडीपी में माथापच्ची होनी तय है। फिलहाल 29 विधायकों के साथ सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते पीडीपी का पलड़ा भारी है। लेकिन नेशनल कांफ्रेंस भी इतनी आसानी से अपना दावा नहीं छोड़ने वाली। वहीं कांग्रेस की नज़र अभी केंद्र की राजनीति पर है। इसीलिए वो राज्य में किसी भी कीमत पर गठबंधन बनाने के लिए राजी है। देखना ये है कि अब राजनीति का ये ऊंट किस करवट बैठेगा।