किश्तवाड़ में बीजेपी नेता के हत्यारों की पहचान, नामों का जल्द होगा खुलासा, चौथे दिन कर्फ्यू में 4 घंटे की ढील
         Date: 05-Nov-2018

 
 
जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल सिंह किश्तवाड़ में बीजेपी नेता अनिल परिहार औऱ उसके भाई के हत्यारों की पहचान होने का दावा किया है। राज्यपाल का कहना है कि जल्द ही हत्य़ारों के नाम सामने लाये जायेंगे। हत्या के कारण के बारे में राज्यपाल ने कहा कि जम्मू कश्मीर में होने वाले पंचाय़ती चुनावों में गड़बड़ी पैदा करने के लिए बीजेपी नेता कि हत्या की गयी। जम्मू में मीडिया से बात करते हुए राज्यपाल ने खुलासा किया कि आतंकी शहरी निकाय चुनाव में कोई हिंसा न होने के चलते हताश है, लिहाजा उन्होंने अगले पंचायती चुनाव में माहौल बिगाड़ने के लिए बीजेपी नेता की हत्या की। हालांकि हत्यारे अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। साथ ही राज्यपाल ने उम्मीद जतायी कि उन्हें उम्मीद है इसी नवंबर महीने में होने पंचायत चुनाव भी बिना किसी हिंसक वारदात के पूरे हो जायेंगे। 
 
 
उधर अनिल परिहार की हत्य़ा के बाद चौथे दिन कर्फ्यू में ढील दी। दीवाली के त्यौहार के मद्देनज़र बाज़ार में गहमाहगमी दिखायी दी। लेकिन किश्तवाड़ में बीजेपी कार्यकर्ताओं में अभी भी रोष बना हुआ है। दरअसल 1 नवंबर की रात करीब 8 बजे बीजेपी के स्टेट सेक्रेट्री अनिल परिहार और उनके भाई की हत्या कर दी गयी थी। जिसके तुरंत बाद शहर में सांप्रदायिक दंगे भड़कने की आशंका के चलते कर्फ्यू लगा दिया गया था।

 
किश्तवाड़ के कर्फ्यू में 4 घंटे की ढील