किश्तवाड़ के शालीमार शिव मंदिर में तोड़फोड़, शिवलिंग और अन्य मूर्तियां खंडित
         Date: 08-Jan-2019

 
कश्मीर घाटी में मंदिरों में तोड़फोड़ कोई नई बात नहीं है, 90 के दशक और उसके बाद घाटी में सैकड़ों हिन्दू मंदिरों को तहस-नहस किया गया। लेकिन जम्मू क्षेत्र में कभी इस आतंक को नहीं फैलने दिया गया। लेकिन पिछले काफी दिनों से किश्तवाड़ शांत जैसे इलाकों में भी आतंक का साया मंडराने की कोशिश की जा रही है। 6 और 7 जनवरी की दरम्यानी रात को एक बार फिर ऐसी ही साजिश रची गयी। जिसमे किश्तवाड़ के प्रसिद्ध शालीमार शिव मंदिर में तोड़फोड़ की गई। मंदिर में स्थापित शिवलिंग को विखंडित कर बाहर फेंक दिया गया। इसके अलावा मंदिर में स्थापित श्री गणेश समेत अन्य देवी-देवताओं की मूर्तियों के साथ भी तोड़फोड़ की गई। घटना सुबह जब श्रद्धालुओं ने देखा तो हंगामा मच गया। आनन-फानन में पुलिस भी मौके पर पहुंची। इस बीच हिन्दू संगठनों ने ऐसा कुकृत्य करने वालों को जल्द पकड़ने की मांग की।
 
 
बताया जा रहा है कि पिछले साल भी इसी मंदिर तोड़फोड़ की गई थी। लेकिन तब भी पुलिस आरोपियों का पता नहीं लगा पायी थी। गौरतलब है कि हाल ही में नवंबर महीने में बीजेपी नेता अनिल परिहार और उसके भाई की आतंकियों ने हत्या कर दी थी। जिसके आरोपियों के भी पकड़ पाने में एजेंसियां अब तक नाकाम है। साफ है कि इलाके में हिंदुओं में जबरदस्त रोष है।
जाहिर है इलाके का माहौल बिगाड़ने वालों के हौसलें बुलंद हैं।