पाकिस्तान में मिली बीएसएफ जवान की लाश, 2 साथियों की जान बचाते हुये गवाई जान
    01-अक्तूबर-2019

 
 
दो साथियों की जान बचाते समय शहीद हुये एसआई परितोष मंडल का शव मंगलवार को पाकिस्तान के क्षेत्र में मिला है। परितोष मंडल बीते 28 सितंबर को दो जवानों के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर एक नाला में मोटर बोट से पेट्रोलिंग कर रहे थे। इसी दौरान नाले में पानी का तेज बहाव आने से उनका बोट असंतुलित हो गया और परितोष दोनों जवानों को बचाते हुये नाले में गिर गये थे, जिसके बाद उनके बारे में कुछ पता नहीं चल रहा था। 3 दिन के सर्च ऑपरेशन के बाद मंगलवार को उनका शव एक नाला पाकिस्तानी क्षेत्र में मिला है। कागजी कार्रवाई के बाद पाकिस्तानी रेंजर्स सम्मान के साथ एसआई परितोष का पार्थिव शरीर बीएसएफ को सौपेंगी। बीएसएफ में एसआई पद पर तैनात 54 वर्षीय परितोष मूलरूप से पश्चिम बंगाल के नादिया जिले के रहने वाले थे।
 
बीएसएफ जम्मू के आईजी ने कहा कि दो जवानों की जान बचाते हुये एक बहादुर और देश के लिये समर्पित सैनिक का शहीद होना हमारे लिये दुर्भाग्यपूर्ण क्षति है। उन्होंने ग्रामीणों और पाकिस्तान रेंजर्स के प्रति आभार जताया, जिन्होंने 3 दिन तक लापता जवान को तलाशने में बीएसएफ की मदद की थी।
 
 
भारत से होकर पाकिस्तान तक बहता है एक नाला
 
 
एक नाला भारत से होकर पाकिस्तान तक बहता है। बीएसएफ के जवान 24 घंटे वहां पर बोट से पेट्रोलिंग करते है। सब इंस्पेक्टर परितोष मंडल भी पेट्रोलिंग के दौरान नाले में गिरे थे।