बच्चियों के साथ बढ़ती रेप वारदातों को रोकने के लिए पाकिस्तान का नायाब तरीका, स्कूल गर्ल्स में बांटे बुर्के
   05-अक्तूबर-2019

 
हाल ही में पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वां प्रांत में छोटी बच्चियों के साथ रेप और छेड़छाड़ की वारदात तेज़ी से बढ़ी हैं। जिसके बाद प्रांत के एजुकेशन डिपार्टमेंट ने स्कूल गर्ल्स को फरमान जारी कर परदा करने को अनिवार्य घोषित कर दिया था। रेप और छेड़छाड़ रोकने की इसी दकियानूसी कवायद में रूस्तम वैली के चीना गांव के गवर्नमेंट गर्ल्स स्कूल में पीटीआई नेता ने बुर्के बांटे। जिसके बाद तमाम बच्चियों को इसी बुर्के का इस्तेमाल करने की सख्त हिदायत दी गयी है।
 
खबर के मुताबिक पीटीआई नेता मुजफ्फर शाह ने कुल 69 स्कूली छात्राओं के लिए बुर्के खरीदने में करीब 1 लाख रूपये खर्च किये। जिसे स्कूली प्रशासन की मदद से इन बच्चियों में बांटा गया, बुर्के-वितरण के दौरान बच्चियों को बताया गया कि स्कूली छात्राओं के लिए सुरक्षित माहौल पैदा होगा और रेप-छेड़छाड़ की वारदात रूकेंगी।
 
 
मुजफ्फर शाह के मुताबिक उन्हें इसकी प्रेरणा खैबर पख्तूनख्वां के सीएम के एडवायज़र जियाउल्लाह भंगश के आदेश से मिली है, जिसमें उन्होंने प्रांत के तमाम स्कूलों में छात्राओं को पर्दा करने के लिए नोटिफिकेशन जारी किया था।
 
हालांकि मीडिया में खबर आने के बाद केपीके सीएम ममनून खान ने इस नोटिफिकेशन को वापिस ले लिया था। लेकिन अब गैर-सरकारी तंत्र के लिए इस नोटिफिकेशन को लागू किया जा रहा है।