अलगाववादी शब्बीर शाह, मसर्रत आलम और आसिया अंदराबी को नहीं मिली राहत, कोर्ट ने भेजा एक महीने की न्यायिक हिरासत में
   14-जून-2019


 
दिल्ली में स्पेशल कोर्ट ने 3 अलगावावादी नेताओं को तिहाड़ से राहत देने से इंकार कर दिया और 2017 के टेरर फंडिंग केस में 12 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया। यानि शब्बीर शाह, मसर्रत आलम और आसिया अंदराबी को तिहाड़ में ही दिन गुजारने होंगे। इन तीनों को 10 दिन की एनआईए कस्टडी खत्म होने के बाद कोर्ट में पेश किया गया था। खराब सेहत का हवाला देते हुए आसिया अंदराबी ने अगली सुनवाई वीडियो कांफ्रेंसिंग से करने की अपील की। लेकिन कोर्ट ने छुट्टियां खत्म होने के बाद संबंधित कोर्ट में इसके लिए अर्जी दाखिल करने को कहा।
 
 
मसर्रत भट्ट को 4 जून को श्रीनगर से दिल्ली ट्रांसिट रिमांड पर लाया गया था, जबकि आसिया औऱ शब्बीर पहले से तिहाड़ में बंद थे। इसके अलावा 2017 के टेरर फंडिंग केस में एनआईए इन तीनों के अलावा आफताब हिलाली, अयाज अकबर खांडे, बिट्टा कराटे, नईम खान, राजा मेहराजुद्दीन और बशीर अहमद भट समेत दर्जनों अलगाववादियों को गिरफ्तार कर चुकी है।