इस्लामाबाद में इन तीन भाइयों ने 2 साल किया सगी नाबालिग बहन के साथ बलात्कार, बीच वाला है उलेमा, क़ुरआन का हवाला देकर चुप कराया वहशियों ने
    03-जून-2019

 
स्लामाबाद में रमज़ान के दौरान एक और वहशियाना बलात्कार का मामला सामने आया है। शहर के गोलरा इलाके में एक 14 साल की नाबालिग मासूम 2 साल तक अपने ही घर में नरक भोगती रही। आखिरकार उसने हिम्मत दिखाई और घर से भागकर पिता के दोस्त और जानकर डॉक्टर को हक़ीक़त बताई की उसके 3 सगे भाई 2 साल से उसके साथ बलात्कार करते आ रहे हैं। उसने कई बार विरोध किया लेकिन उसके मझले भाई, जोकि उलेमा है, ने क़ुरआन का हवाला देकर उसको चुप रहने को कहा। मासूम डर से कभी ज़ुबान नही खोल पायी। पीड़िता ने बताया कि उसके साथ उलेमा भाई ने मस्जिद के अहाते में भी बलात्कार किया।
 
दरअसल ये परिवार बन्नू का रहने वाला है, माँ बाप की मौत के बाद पीड़िता अपने भाइयों के साथ इस्लामाबाद आ गयी। जहां उसकी जिंदगी नरक बनकर रह गयी है।
 
डॉक्टर को पूरी कहानी बताने के बाद पुलिस में मामला दर्ज कराया गया, जिसके बाद तीनों भाइयों को गिरफ़्तार कर लिया गया। पूछताछ में तीनों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। लेकिन अब ये तीनों अपनी बहन से माफी के लिए दबाव बना रहे हैं।
 
पीड़िता की हालत मानसिक रूप से काफी नाज़ुक बताई जा रही है।