कारगिल विजय की 20वीं वर्षगांठ- आर्मी चीफ बिपिन रावत की पाकिस्तान को सीधी चेतावनी- “फिर कभी भविष्य में ऐसी जुर्रत न करना”
   25-जुलाई-2019

 
 
26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस के 20 साल पूरे हो रहे हैं। इस अवसर पर आर्मी चीफ बिपिन रावत द्रास सेक्टर में हैं। जहां प्रेस से बात करते हुए बिपिन रावत ने पाकिस्तान को सीधी चेतावनी देते हुए कहा कि- मुझे पक्का यकीन है, बल्कि आपको (मीडिया) भी पूरा विश्वास है कि दुश्मन दोबारा फिर कभी इस तरह की हिम्मत नहीं करेगा। असल में ये एक बड़ी गलती थी, जिसको 1999 में पाकिस्तानी आर्मी ने अंजाम देने की कोशिश की थी। वो भारतीय आर्मी और सरकार की इच्छाशक्ति का अंदाजा ही नहीं लगा पाये कि हम इसको कभी कामयाब नहीं होने देंगे। चाहे वो कितनी ही ऊंची चोटियों को अपने कब्ज़े में ले लें, भारतीय सेना में इतना माद्दा है कि वो उन चोटियों को दोबारा हासिल कर लेगी और कारगिल युद्ध में भी यहीं हुआ।
 
 
तो मैं उनको चेतावनी देता हूं कि कभी इस तरह की हरकत नहीं करना। अब हमारे पास अच्छी सर्विलांस टेक्नोलॉजी मौजूद है और हम उन चोटियों पर मौजूद हैं। जहां से दुश्मन की कोशिश कर सकता है। बेहतर रहेगा, दुश्मन ये जान लें कि हम भी इस तरह की कार्रवाई को अंजाम दे सकते हैं। लेकिन अच्छा होगा दुश्मन इस तरह की हरकत दोबारा अंजाम देने की कोशिश न करें। आपको पता है कि एलओसी पर क्या हो रहा है, हमने उन्हें बैकफुट पर रखा हुआ है और आगे भी उनको बैकफुट पर पीछे धकेल कर रखेंगे। लेकिन पाकिस्तान को मेरी फिर से चेतावनी है कि फिर कभी इस तरह की हरकत को अंजाम देने की कोशिश न करना, कभी भी, कहीं भी। सोचना भी मत..।
 
आपको बता दें कि पाकिस्तान लाइन ऑफ कंट्रोल पर भी लगातार सीज़फायर का उल्लघंन करता रहा है, लेकिन भारतीय सेना के जवाबी हमले ने पाकिस्तान की तमाम कोशिशों को नाकाम कर दिया है। पिछले 2 हफ्तों में पाकिस्तान के 6 सैनिक मारे जा चुके हैं। जिसके बाद पाकिस्तान ने इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग को लाइन ऑफ कंट्रोल पर भारतीय जवाबी कार्रवाई के खिलाफ शिकायत की थी।