“आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन करो तेज, जल्द हो आतंक का खात्मा”- सुरक्षा एजेंसियों को अजीत डोभाल का निर्देश
   27-सितंबर-2019

 
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने गुरुवार को सुरक्षा एजेंसियों को घाटी में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन तेज करने का निर्देश दिया है। जिससे वहां के स्थानीय लोग बिना आतंकवाद के डर के अपने दैनिक कार्यो को पूरा करने में सक्षम हो सके। दरअसल अजीत डोभाल गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के अवंतीपोरा और पुलवामा के दौरे पर थे, जहां उन्होंने स्थानीय लोगों से मुलाकात की थी। जिसके बाद उन्होंने राजधानी श्रीनगर में सभी सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों के साथ एक उच्चस्तरीय बैठक की थी। उन्होंने कहा कि बीते डेढ़ महीने के अंदर घाटी में मानवाधिकार के उल्लघंन का कोई भी मामला सामने नहीं आया हैं। पूरे जम्मू-कश्मीर का माहौल शुरू से शांत बना हुआ है। पाकिस्तान परस्त आतंकवादी लगातार माहौल खराब करने की नाकाम कोशिश में लगे हुये है, लेकिन भारतीय सुरक्षा एजेंसी लगातार उनके नापाक मंसूबे को नाकाम कर रही है।
 
 
 
सेब बागान मालिकों और दुकानदारों को परेशान करने वालों को तुरंत मिले सजा
 
जम्मू-कश्मीर में सेब बागान मालिकों और दुकानदारों को डराने और मारने की घटना पर अजीत डोभाल ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि ऐसे लोगों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्रवाई की जाये। जम्मू-कश्मीर के सभी लोगों की सुरक्षा सरकार की पहली प्राथमिकता है।
पाकिस्तान परस्त आतंकियों को लेकर सुरक्षाबल चौकन्नी
 
सुरक्षा एजेंसी से मिले रिपोर्ट के आधार पर अजीत डोभाल ने सभी सुरक्षा बलों को निर्देश दिया कि सभी प्रमुख प्रतिष्ठानों और बार्डर क्षेत्रीय इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दें। रिपोर्ट में कहा गया था कि पाकिस्तान परस्त आतंकी घाटी में हमला करने की फिराक में है। उन्होंने सुरक्षाबलों से कहा जहां भी घुसपैठ की खबर मिले वहां पर आतंकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें।
 
बीते डेढ़ महीने में पूरे जम्मू-कश्मीर का माहौल बिल्कुल शांत बना हुआ है। एक भी ऐसा मामला सामने नहीं आया है, जहां पर मानवाधिकार का उल्लघंन हुआ हो। सरकार की पहली प्राथमिकता घाटी के सभी लोगों की सुरक्षा को सुनिश्चित करना है। ताकि पाकिस्तान परस्त आतंकी घाटी के लोगों को कोई हानि ना पहुंचा सके।