पाकिस्तान में मुहाजिरों पर अत्याचार के विरोध में न्यूयॉर्क में प्रदर्शन
    28-सितंबर-2019

 
पाकिस्तान में मुहाजिरों पर हो रहे अत्याचार को लेकर शुक्रवार को मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट ने संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के संयुक्त राष्ट महासभा के 74वें सेशन में भाषण के दौरान यह प्रदर्शन किया गया।
 
प्रदर्शन में बड़ी संख्या में मुत्ताहिदा कौमी मूमेंट के अलावा अलग-अलग शहरों से आए पुरुष,महिलाएं, बच्चे, और बुजुर्गों ने इसमें हिस्सा लिया। लोगों ने हाथों में MQM संस्थापक अल्ताफ हुसैन की फ़ोटो के साथ-साथ पिछले दिनों मारे गए कार्यकर्ताओं की फ़ोटो,झंडे और कराची में राज्य सरकार द्वारा मानव अधिकार हनन के विरुद्ध लिखे स्लोगन के साथ प्रदर्शन किया।
 
इस दौरान MQM के नेताओं ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि पाकिस्तान में हमारे और दूसरे समाज पर पाकिस्तानी आर्मी द्वारा नरसंहार और क्रूरता के मुद्दे को दुनिया के सामने उठाने के लिए हम लोग यहाँ इकठ्ठा हुए हैं, पाकिस्तान में हमारे ऊपर मार्शल लॉ थोपकर हमें राजनीति से हटाया गया और हमारे कार्यालय को पिछले 3 सालों से सील कर के रखा गया है।
 
उन्होंने बताया कि मुहाजिर वाली आबादी जिसमें कराची, हैदराबाद जैसे शहरों के साथ साथ पश्तून, सिंध और बलूचिस्तान को सेना के हवाले कर दिया गया है। जहाँ के लोग पाकिस्तानी सेना द्वारा नरसंहार का सामना कर रहे हैं।
 
गौरतलब है कि ये प्रदर्शन उस वक्त हुआ जब इमरान खान जनरल एसेंबली में कश्मीर में मानवाधिकार का झूठा रोना रो रहे थे।