नवरात्रि के पहले दिन हजारों भक्तों ने किया माता वैष्णो देवी के दर्शन, जयकारों से गूंजा माता का दरबार
    17-अक्तूबर-2020


MATA_1  H x W:
 
नवरात्रि के पहले दिन से ही कटरा में माता वैष्णो देवी के भक्तों की चहल-पहल दिखी। माता के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की लंबी लंबी कतारे देखेने को मिली। वहीं वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड द्वारा माता के दरबार और पूरे रास्ते को रंग-बिरंगी कृत्रिम लाइट और फूलों से सजाया गया है। जम्मू-कश्मीर प्रशासन की तरफ से जारी दिशा निर्देश के मुताबिक एक दिन में सिर्फ 7 हजार श्रद्धालु ही दर्शन कर सकते हैं। वहीं प्रशासन और श्राइन बोर्ड ने कोरोना महामारी ने निपटने के लिए सभी उचित प्रबंध किये हैं।
 
 



माता के दर्शन करने पहुंचे एक भक्त ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बताया कि हर जगह के साथ-साथ मां के दरबार को बड़ी ही खूबसूरती से सजाया गया है। कोविड-19 को लेकर सोशल डिस्टेन्सिंग के मानदंडों को बनाये रखने के लिए सभी पर्याप्त इंतजाम किये गये हैं। कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन भी किया जा रहा है। बता दें कि माता के दर्शन को लेकर कोविड-19 के प्रोटोकॉल के तहत सभी भक्तों को कोरोना की जांच करानी जरूरी है। साथ ही अपने साथ रिपोर्ट लेकर आना आवश्यक है। उसके बाद ही भक्तों को माता के दर्शन के लिए प्रवेश मिलेगा।
 


वहीं भक्तों की सुविधा के मद्देनजर हेलिकॉप्टर सेवा भी शुरू कर दी गई है। साथ ही पिट्ठू आदि सुविधा भी बहाल कर दी गई है। सभी मंदिरों में कोविड-19 को लेकर दिये गये केंद्र सरकार की गाइडलाइन के तहत मंदिरों में एक समय में अधिकतम पांच भक्तों को ही प्रवेश दिया जा रहा है। वहीं मंदिर में प्रवेश से पहले हैंड सैनिटाइजर, मास्क आदि का प्रयोग जरूरी किया गया है। साथ ही मंदिर के पुजारियों को निर्देश दिया गया है कि वह किसी भी भक्त को ना तो आशीर्वाद देंगे और ना ही टीका लगायेंगे। यही नहीं, मंदिर खुलने के बाद और बंद करने से पहले पूरा सैनिटाइज किया जायेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी नवरात्र के पहले दिन मां शैल पुत्री को नमन करते हुये ट्वीट करके शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि ''नवरात्रि के पावन पर्व की बहुत-बहुत बधाई। जगत जननी मां जगदंबा आप सभी के जीवन में सुख, शांति और समृद्धि का संचार करें। जय माता दी।