टिक-टॉक समेत 59 चायनीज़ एप बैन! सरकार ने बताया देश की सुरक्षा और अखंडता के लिए खतरा, देखिए लिस्ट
   29-जून-2020

Government’s tech surgica
 
भारत सरकार ने चीन के हमले का जवाब देते हुए जोरदार जवाब दिया है और भारत में काम कर रही 59 चायनीज़ मोबाइल एप पर पाबंदी लगा दी है। इन मोबाइल एप में देश में 20 करोड़ यूज़र वाली टिक-टॉक एप और यूसी ब्राउज़र जैसी एप शामिल हैं। भारत सरकार के तकनीक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा आदेश में कहा गया है कि भारत सरकार ने 59 मोबाइल एप को देश की एकता, अखंडता, देश की सुरक्षा और सामाजिक व्यवस्था के मद्देनजर पाबंदी लगाने का फैसला किया है।
 
सरकार ने आईटी एक्ट के सेक्शन 69ए के तहत प्रदत्त अधिकारों का इस्तेमाल करते इन एप्स पर पाबंदी लगायी है। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के मुताबिक गृहमंत्रालय के द साइबर क्राइम कॉर्डिनेशन सेंटर ने इन एप्स पर पाबंदी लगाने की सिफारिश की थी। क्योंकि ये एप्स 130 लोगों की डाटा-सिक्योरिटी, प्राइवेसी औऱ देश की एकता-अखंडता के लिए बड़ा खतरा पैदा कर रही थी।
 
 
59 एप्स की इस लिस्ट में जानी-मानी एप टिक-टॉक, शेयर-इट, यूसी ब्राउज़र, वीबो, बिगो लाइव जैसी एप शामिल हैं।

Government’s tech surgica
 
दरअसल लद्दाख में चीन के हमले को देखते हुए देश में चीनी सामान और चीनी मोबाइल एप पर पाबंदी की जोरदार मांग की जा रही थी। हाल ही में सोशल मीडिया पर अब-चीनी-बंद नाम का हैशटैग भी ट्रेंड हुआ था। जिसमें लाखों लोगों ने चीनी सामान और एप्स पर पाबंदी लगाने की मांग की गयी थी। जाहिर है गलवान में चायनीज़ हमले के बाद लोग ऐसे ही किसी बड़े जवाब की उम्मीद कर रहे थे।