कुलगाम में आतंकियों के खिलाफ बड़ा ऑपरेशन, TRF कमांडर समेत पांच आतंकी ढेर
   17-नवंबर-2021

kulgam_1  H x W


कुलगाम में बुधवार को सेना ने आतंकियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। जानकारी के मुताबिक बुधवार को कुलगाम के पोंबे और गोपालपोरा में पांच आतंकियों को मार गिराया है। इस एनकाउंटर में टीआरएफ कमांडर सिकंदर भी मारा गया है। सूत्रों ने बताया कि सुरक्षा बलों ने आतंकियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी के बाद सर्च ऑपरेशन शुरू किया था। इस दौरान सुरक्षाबलों ने आतंकियों को सरेंडर करने का एक मौका दिया था। लेकिन आतंकियों ने सरेंडर नहीं किया और सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी।  जिसके बाद सुरक्षाबलों ने दोनों एनकाउंटर में एक-एक करके 5 आतंकियों को मार गिराया है। मारे गए एक आतंकी की पहचान टीआरएफ कमांडर सिकंदर के रूप में हुई है। जानकारी के मुताबिक एनकाउंटर साइट पर अभी भी 2-3 आतंकी छिपे हुए हैं। सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर साइट के आस-पास सभी इलाकों में घेराबंदी करके सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।
 





बता दें कि इससे पहले श्रीनगर के हैदरपोरा इलाके में आतंकियों और सुरक्षाबलों की मुठभेड़ में सोमवार को मारे गए दो आतंकियों में एक पाकिस्तानी है, जो रविवार को डाउनटाउन में हुए हमले में शामिल था। जबकि उसके दो मददगार भी मारे गए हैं। मददगारों में एक उस मकान का मालिक है, जिसने आतंकियों को पनाह दी थी। आतंकियों के पास से दो पिस्टल और अन्य सामान बरामद किया है। इसके अलावा मामले की जांच के लिए डीआईजी की अध्यक्षता में विशेष जांच टीम का गठन किया गया है। जानकारी के मुताबिक आतंकियों ने मकान की ऊपरी मंजिल पर काल सेंटर में आतंकी ठिकाना बना रखा था। आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने मंगलवार को बताया था कि मकान मालिक को आतंकियों का पनाहगार माना जाएगा। दूसरा मददगार पेशे से ठेकेदार है, जो मकान के तीन कमरे किराये पर अवैध रूप से कॉल सेंटर चला रहा था। उन्होंन कहा कि मारे गए पाकिस्तानी आतंकी की पहचान बिलाल भाई उर्फ हैदर के तौर पर हुई है। दूसरा आतंकी रामबन जिले के बनिहाल का है, जिसके परिवार को पहचान के लिए बुलाया गया है। सूत्रों ने बताया कि मामले की जांच जारी है।