राजनीति

J&K में कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस का अतरंगी गठबंधन, 3 सीट पर मिलकर लड़ेंगे, अनंतनाग-बारामूला में फ्रैंडली फाइट, लद्दाख पर अभी फैसला नहीं

 लंबी रस्साकशी के बाद जम्मू कश्मीर में कांग्रेस और नेशनल के बीच आज लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन का ऐलान हो ही गया। लेकिन गठबंधन ऐसा है कि हर कोई हैरान है। फारूख अब्दुल्ला से कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद की मुलाकात के बाद घोषणा की गयी कि कुल 6 सीटों में से 3 सीटों पर दोंनों पार्टी मिलकर चुनाव लड़ेगी। बाकी की दो सीटों में दोनों पार्टियां अपना उम्मीदवार उतारेंगी। यानि फ्रैंडली फाइट होगी। गठबंधन वाली सीट में श्रीनगर पर नेशनल कांफ्रेंस। जबकि जम्मू और ऊधमपुर सीट पर कांग्रेस चुनाव लड़ेगी।  बाकी ..

फर्जी नेशनलिस्ट बनकर बरखा दत्त को अश्लील तस्वीरें भेजने वाला शब्बीर गुरफान गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस के साइबर सेल ने सूरत से शब्बीर गुरफान पिंजरी नाम के एक शख्स को गिरफ्तार किया है। जिसको 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। दरअसल शब्बीर पेशे से कसाई की दुकान पर काम करता है। 45 साल के शब्बीर ने व्हाट्सएप पर नेशनलिस्ट की डीपी लगाकर बरखा को अश्लील Di*k Pic भेजी थी। लेकिन पुलिस के जांच में शब्बीर असलियत पता चली। शब्बीर के सोशल मीडिया अकाउंट से पता चलता है कि वो धुर-मोदी विरोधी और रवीश कुमार-विनोद दुआ का फैन है। ट्विटर पर शब्बीर के सोशल मीडिया अकाउंट की कुछ तस्वीरें शेयर की जा ..

J&K: कांग्रेस-अब्दुल्ला गठबंधन भी खटाई में, घाटी की 3 सीटों पर एनसी के उम्मीदवार मैदान में उतरे

  कांग्रेस दिल्ली, यूपी, बिहार और बंगाल की तरह जम्मू कश्मीर में भी गठबंधन बनाने लगभग नाकामयाब होती दिखाई दे रही है। कांग्रेस की जिद को देखते हुए नेशनल कांफ्रेंस ने जम्मू कश्मीर की तमाम लोकसभा सीटों पर उम्मीदवारी ठोंक दी है। नेशनल कांफ्रेंस ने घाटी में अनंतनाग-पुलवामा सीट पर जम्मू कश्मीर हाई कोर्ट के पूर्व जज हसनैन मसूदी के नाम की घोषणा कर दी है। पार्टी इससे पहले श्रीनगर-बड़गाम सीट पर फारूख अब्दुल्ला और बारामुला सीट से मुहम्मद अकबर लोन का नाम पहले ही घोषित कर चुकी है। दरअसल कांग्रेस ..

NIA की कार्रवाई से घबराये अलगाववादियों ने शुरू किया प्रोपगैंडा, जमात-ए-इस्लामी कार्यकर्ता की संदिग्ध मौत NIA पर मढ़ने की साजिश

टेरर फंडिंग केस में अलगाववादी मीरवाइज़ उमर फारूख एक बार फिर एनआईए के समन पर दिल्ली नहीं पहुंचे। ये दूसरी बार है जब उमर फारूख ने एनआईए के समन को नहीं माना। उमर फारूख की मांग है कि पूछताछ दिल्ली नहीं श्रीनगर में की जाये। जिसके लिए एनआईए तैयार नहीं है। IANS की खबर के मुताबिक एनआईए का दावा है कि उनके पास काफी सबूत हैं जिनसे साबित होता है कि मीरवाइज़ टेरर फंडिंग केस में शामिल हैं। उम्मीद है उमर फारूख समेत बाकी 6 बड़े अलगाववादी नेताओं पर कार्रवाई की जा सकती है। इन नेताओं में मीरवाइज उमर फारूख के अलावा सैयद ..

#MainBhiChowkidar सिर्फ एक नारे से परेशान क्यों है कांग्रेसी और पीडी मीडिया !!

  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और देश के सबसे महँगे वकील कपिल सिब्बल जब इतनी सस्ती बात करते हैं कि मोदी के रहते देश में सभ्य और सम्मान देने वाले राजनितिक वातावरण मुश्किल है। जबकि दूसरे कांग्रेसी नेता पी एम को नीच से संबोधित करते हैं । एक प्रवक्ता मोदी का मतलब मसूद अज़हर ,ओसामा और दाऊद बताते है, खुद जब पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, पी एम को चोर बताते हैं। तो यकीन मानिए यह शुरुआत सोनिया गाँधी ने की थी। एक एलिट फैमिली और पार्टी कांग्रेस की पूर्व अध्यक्षा सोनिया गाँधी ने ही नरेंद्र मोदी को मौत के सौदागर ..

मोदी ने निभाया एक और बड़ा वायदा, सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज पिनाकी चंद्र घोष होंगे देश के पहले लोकपाल

  अन्ना आंदोलन के लगभग 7 साल बाद देश में पहले लोकपाल की नियुक्ति तय हो चुकी है। लोकपाल को नियुक्त करने की सेलेक्शन कमेटी ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज, जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष के नाम पर मुहर लगा दी है। इसकी आधिकारिक घोषणा अगले एक-दो दिनों की कर दी जायेगी। सेलेक्शन कमेटी में पीएम नरेंद्र मोदी, चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन और जाने-माने अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने ये फैसला लिया। हालांकि विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को भी स्पेशल इनवाइटी के तौर पर इस कमेटी में बुलाया गया ..

शाह फैज़ल की नई पार्टी लॉन्च, मुस्लिम लिबास में शेहला रशीद भी शामिल, नेशनल कॉन्फ्रेंस ने कहा- कश्मीरी वोटर्स को बांटने के लिए दिल्ली की साजिश है ये पार्टी

जम्मू कश्मीर की राजनीति में एक और नई पार्टी का नाम जुड़ गया है। जिसका नाम है जम्मू कश्मीर पीपल्स मूवमेंट। जिसको पूर्व आईएएस टॉपर शाह फैज़ल ने श्रीनगर के फुटबॉल ग्राउंड में लॉन्च किया। शाह फैजल की पार्टी में जेएनयू की पूर्व छात्र नेता शेहला रशीद ने ज्वाइन किया। आमतौर पर दिल्ली बेलौस लहजे में सरकारों के गरियाने वाली शेहला रशीद लॉन्च पार्टी में एक मुस्लिम लिबास में नज़र आईं। जाहिर है शेहला को अंदाजा है कि कश्मीर में वोट चाहिए तो नास्तिक होने का दावा भी छोड़ना पडेगा और मुस्लिम होने का लबादा भी ओढ़ना पड़ेगा। ..

J&K: सरकारी विज्ञापन बंद होने से तिलमिलाये अलगाववादियों के चहेते अखबार, विरोध में पहला पेज़ छोड़ा खाली

 पुलवामा हमले के बाद जम्मू कश्मीर सरकार ने उन अखबारों को सरकारी विज्ञापन न देने का फैसला किया, जोकि अलगाववादियों औऱ आतंकवादियों का पक्ष धडल्ले से छापते हैं। इनमें ग्रेटर कश्मीर और कश्मीर रीडर, कश्मीर घाटी के 2 बड़े अखबार हैं। सरकार के इस फैसले से इन अखबारों की करोड़ों की आमदनी बंद हो गयी है। इससे घबराये द कश्मीर एडिटर्स गिल्ड ने सरकार के इस फैसले का विरोध जताया जिस कड़ी में कईं कश्मीरी अखबारों ने आज अपने पहले पेज को खाली छोड़ कर विरोध जताया।  . दरअसल अब दूसरे अखबारों को भी ड़र है कि ..

पुलवामा हमला और देश की एकजुटता को तोडने की कोशिश, एक ही साजिश के 2 हिस्से

  लेखक- आशुतोष भटनागरपुलवामा घटना के बाद देश के तमाम हिस्सों से कश्मीरियों पर हमले की खबरें आयीं। सर्वोच्च न्यायालय ने इस पर कड़ा रुख अपनाते हुए सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों को कश्मीरियों की सुरक्षा के लिये तुरंत आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये।यद्यपि केन्द्र सरकार ने सर्वदलीय बैठक के तुरंत बाद ही कश्मीरियों की सुरक्षा के संबंध में सूचना जारी की थी, गृह मंत्रालय द्वारा एडवाइजरी जारी कर इसे दोहराया गया। लेकिन याचिकाकर्ता ने इसे कश्मीरियों ..

पुलवामा शहीदों को 110 करोड़ दान देने का मुर्तज़ा अली का फर्ज़ीवाड़ा और रवीश कुमार का प्रोमोशनल इंटरव्यू, वाह क्या प्रोपगेंडा है......!!

   हाल ही में सोशल मीडिया पर एक मुर्तज़ा अली नामक कोटा निवासी सोशल मीडिया पर छाया हुआ है। दरअसल जिसने दावा किया था कि वो पुलवामा हमले में वीरगति पाने वाले जवानों के परिवारों के लिए 110 करोड़ रूपये दान करेगा, प्रधानमंत्री राहत कोष में। बात 110 करोड़ के दान की थी, वो भी एक मुस्लिम द्वारा, जोकि खुद नेत्रहीन है। सबको लगा वाह क्या शानदार लिबरल स्टोरी है...। सबसे सोशल मीडिया पर तारीफों के पुल बांध दिये। टीवी-अखबारों में बड़ी-बड़ी हेडलाइन छाप दी गईं। सबने कहा यहीं है कलियुग का असली मसीहा...। ..

" 2 सर्जिकल स्ट्राइक की दूंगा जानकारी, तीसरी की नहीं"- राजनाथ सिंह,केंद्रीय गृह मंत्री

 भारत के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मेंगलुरू (कर्नाटक) में किया बड़ा खुलासा। उन्होंने कहा बीते पांच सालों में हमने सीमापार जाकर तीन बार स्ट्राइक की है। आगे उन्होंने कहा "दो स्ट्राइक की जानकारी दूंगा लेकिन तीसरी की नहीं दूंगा "।सुनिए राजनाथ ने क्या कहा स्ट्राइक के बारे :-The Home Minister of India made a big revelation in Mangluru (Karnataka). He said that in last five years we had conducted three strikes across the border. He then added that "I will give you details of two strikes, but will ..

जम्मू कश्मीर गवर्नर का एतिहासिक फैसला, राज्य में पहली बार होंगे ब्लॉक स्तर के चुनाव

  जम्मू कश्मीर में पंचायती और शहरी निकाय चुनावों को सफलतापूर्वक करवाने के बाद राज्य प्रशासन लोकतंत्र की मजबूती के लिए एक और शानदार कदम उठाया है। गवर्नर सत्यपाल मलिक ने स्टेट एडमिनिस्ट्रेटिव काउंसिल की बैठक के बाद ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल के चुनाव करवाने को मंजूरी दे दी। राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी जल्द ही इसी अधिसूचना जारी कर चुनावों की तारीख की घोषणा करेंगे। राज्य में ऐसा पहली बार होगा, जब ब्लॉक स्तर पर काउंसिल के चुनाव करायें जायेंगे। पंचायती राज व्यवस्था के तहत देश के बाकी तमाम राज्यों ..

जानिए क्यों जम्मू कश्मीर की दलित लड़की राधिका गिल के लिए अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के कोई मायने नहीं है।

  आज पूरी दुनिया अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस बना रही है। लेकिन जम्मू कश्मीर की महिलाओं के लिए इस दिन का ज्यादा महत्व नहीं है ।क्या आप जानते हैं जम्मू कश्मीर में संविधान के अनुच्छेद 35 A ने एक दलित लड़की की उड़ान शुरू होने से पहले ही रोक दिया है।जानिए क्यों जम्मू कश्मीर की दलित लड़की राधिका गिल के लिए अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के कोई मायने नहीं है।वीडियो में पूरी कहानी खुदअनुच्छेद 35A  की पीड़ित राधिका गिल खुद अपनी कहानी बता रही है ।   ..

इंडिया में लिबरल गैंग की वाहवाही के बाद पाकिस्तानी एसेंबली में इमरान खान को नोबेल शांति पुरस्कार से नवाजने का प्रस्ताव पेश

 सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारत के रूख और चौतरफा कूटनीतिक दबाव के चलते पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को 56 घंटों में ही वापिस कर दिया। लेकिन पाकिस्तान की प्रोपगैंडा मशीन ने इसे शांति के संदेश के तौर पर पेश करना शुरू किया। इंडिया में बैठे लिबरल ग्रुप ने तुरंत इसको इमरान खान का मास्टर-स्ट्रोक, इमरान खान द ग्रेट, इमरान फॉर पीस, गुडविल जेस्चर टाइप कैंपेन शुरू दिया। इमरान खान की शान में कसीदे गढ़े गये।  लेकिन आज पाकिस्तान के एक चमचे मंत्री ने इमरान खान को नोबेल प्राइज़ दिये जाने की मांग ..

NIA ने कश्मीर में की सर्जिकल स्ट्राइक, यासीन मलिक, उमर फारूख, मसर्रत आलम समेत 7 अलगाववादियों के ठिकानों पर रेड

   एक तरफ इंडियन एयरफोर्स के फाइटर जेट पुलवामा हमले के जिम्मेदार जैश-मोहम्मद के ठिकाने बमबारी कर रहे थे। ठीक उसी वक्त नेशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी (NIA) ने कश्मीर घाटी में जैश आतंकियों के पाकिस्तान परस्त अलगाववादियों के 7 ठिकानों पर रेड मारी। जिन अलगावादियों के ठिकानों पर रेड मारी, उनमें यासीन मलिक, शब्बीर शाह, मीरवाइज़ उमर फारूख, मोहम्मद अशरफ खान, मसर्रत आलम, जफर अकबर भट्ट, नसीम गिलानी, सैयद अली शाह गिलानी के बेटे का नाम शामिल है।  सर्च के दौरान एनआईए ने अवैध प्रॉपर्टी पेपर्स, ..

सिर्फ पाकिस्तान नहीं, मोदी हटाओ गैंग के इन ठेकेदारों के अरमानों पर भी हुई है सर्जिकल स्ट्राइक, कुछ मानने को तैयार नहीं तो कुछ ने मांगे सबूत

  इंडियन एयरफोर्स के फाइटर प्लेन पाकिस्तान में घुसे, इसकी सबसे पहले सूचना पाकिस्तानी आर्मी के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने ट्वीट कर दी। जिसके बाद खबर आग की तरह फैली और पता चला कि भारत ने एलओसी पार कर पीओजेके से करीब 20 किमी अंदर बालाकोट में जैश के कैंप पर हमला किया और 350 आतंकियों को मार गिराया। लेकिन जैसे ही पुलवामा हमले के बदले की खबर फैली भारत के कुछ लोगों को चेहरे स्याह पड़ गये। मानो हमला बालाकोट कैंप पर नहीं उनके ख्वाबों पर हुआ हो, मोदी सरकार के खिलाफ उनकी सालों की मेहनत पर पानी फिर गया हो। ..

द वायर के झूठ का पर्दाफाश, देशविरोधी कमेंट करने वाले कश्मीरी छात्रों पर कार्रवाई को बनाया कश्मीरियों पर Violence-Harassment की घटनाएं, देखिए और खुद फैसला करिए

  पुलवामा आत्मघाती हमले के बाद देश में जबरदस्त रोष था, तो उसी दौरान सोशल मीडिया में देश के कोने-कोने में कुछ कश्मीरी छात्रों ने पुलवामा हमले न सिर्फ जश्न मनाया। बल्कि जैश-ए-मोहम्मद का खुलेआम समर्थन किया। सोशल मीडिया पर इन लोगों ने इनको एक्सपोज़ करने पर कई छात्रों पर पुलिस और उनके एजुकेशनल इंस्टीट्यूट ने अनुशासनात्क कार्रवाई की। लेकिन THE WIRE जैसे मीडिया हाउस ने इन आरोपी छात्रों को ही पीड़ित घोषित करने का एक प्रोपगैंडा शुरू किया है। THE WIRE ने 40 घटनाओं का उल्लेख अपनी रिपोर्ट में किया है, ..

क्या सरकार लगायेगी हुर्रियत पर बैन? बीती रात भी जारी रही अलगाववादियों की धरपकड़

 पिछले 48 घंटों से सरकार ने कश्मीर में पनपे अलगाववाद की कमर तोड़ कर रख दी है। बीती रात भी अलगाववादी और कट्टरपंथी नेताओं की गिरफ्तारी जारी रही। हालांकि इन गिरफ्तारियों की आधिकारिक जानकारी नहीं दी जा रही है। लेकिन सूत्रों के मुताबिक बीती रात दर्जन भर पाकिस्तान की भाषा बोलने वाले इस्लामिक संगठनों के लीडर्स को हिरासत में लिया गया। इस बीच खबर है कि केंद्र सरकार हुर्रियत पर बैन लगा सकती है, लिहाजा उससे पहले सरकार नेताओं को गिरफ्तार कर रही है। चूंकि आज मीरवाइज उमर फारूख और गिलानी ने बंद का ऐलान ..

गिरफ्तारियों के बाद अलगाववादी दे रहे हैं हालात बिगाड़ने की धमकी, अफरातफरी के बीच श्रीनगर में धारा 144 लागू, ज़रूरी सामान खरीदने के लिए लगीं लंबी कतारें

  कश्मीर में पिछले 24 घंटों में कई अलगाववादी नेताओं को हिरासत में लिया गया। जिसके बाद बाकी बचे पाकिस्तान परस्त अलगाववादियों ने घाटी में हालात बिगाड़ने की धमकी दे रहे हैं। इस बीच सुप्रीम कोर्ट में आर्टिकल 35ए की सुनवाई और उसको हटाने की अफवाहें फैलाई जा रही हैं। जबकि सोमवार को सुप्रीम कोर्ट सुनवाई अभी तक तय नहीं है। लेकिन अलगाववादी आतंकवाद और पाकिस्तान से ध्यान भटकाकर आर्टिकल 35ए के बहाने घाटी में माहौल भड़काने में लगे हैं। जिसको लेकर अलगाववादी मीरवाइज उमर फारूख और सैयद अली शाह गिलानी समेत ..

“मोदी सरकार, सीमा पर जवान और मां भवानी पर भरोसा रखिए, इस बार सबका हिसाब होगा…पूरा होगा”

  राजस्थान के टोंक में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने एक बार फिर न सिर्फ पाकिस्तान को करारा जवाब दिया। बल्कि ये साफ कर दिया कि इस बार मामला आर-पार का है। मोदी ने मंच से हुंकार भरते हुए कहा कि - “आंतक को बढ़ावा देनेवालों का दाना-पानी बंद होना चाहिए। मोदी सरकार, सीमा पर जवान और मां भवानी पर भरोसा रखिए, इस बार सबका हिसाब होगा…पूरा होगा।”  पीएम मोदी ने कहा कि पीएम ने पुलवामा के जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि हमारे जवानों ने 100 घंटे में बदला लिया। ..

बरखा, मीरवाइज़, महबूबा से लेकर पाकिस्तान तक...!! जानिए यासीन मलिक और जमात नेताओं की गिरफ्तारी से किस-किसके दिल में उठा दर्द

   शुक्रवार और शनिवार की दरम्यानी रात कश्मीर घाटी में पुलिस ने एहतियातन दर्जन से ज्यादा अलगाववादी नेताओं को गिरफ्तार कर लिया। जिसमें जेकेएलएफ के यासीन मलिक, जमात-ए-इस्लामी के अमीर अब्दुल हामिद फ़ैयाज़, जमात प्रवक्ता एडवोकेट जाहिद अली, पूर्व सेक्रेटरी जनरल ग़ुलाम क़ादिर लोन जैसे नाम शामिल है। सुबह जैसे ही ये खबर फैली, इन अलगाववादियों के चाहने वाले पत्रकारों-नेताओं के दिल में दर्द उठना लाजिमी था। कश्मीर, दिल्ली और पाकिस्तान सब जगहों ने दर्द के मारों ने गिरफ्तारी के खिलाफ ट्वीट दागकर अपनी ..

शर्मनाक! डियर एजाज अशरफ और The Caravan, जवानों की जाति ढूंढ निकाली तो, आतंकियों का धर्म क्यों छिपा रहे हो, क्या एजेंडा है?

शर्मनाक! डियर एजाज अशरफ और The Caravan, हिंदू जवानों की जाति ढूंढ निकाली तो, आतंकियों का धर्म क्यों छिपा रहे हो, क्या एजेंडा है?..

पुलवामा हमले के बाद भी सिद्धु को नज़र नहीं आ रहा आतंक का देश और मजहब, कहा- “आतंकवाद का ना मजहब, ना जात और ना कोई देश”

पाकिस्तान में आतंकियों के आका जनरल बाजवा को गले लगाने वाले और इमरान की दोस्ती के कसीदे पढ़ने वाले कांग्रेसी नेता नवजोत सिंह सिद्धु अभी भी पाकिस्तान के प्यार में इतने डूबें हैं कि उन्हें पाकिस्तान का आतंकी चेहरा नज़र ही नहीं आ रहा। पुलवामा आत्मघाती हमले के बाद पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कड़ी निंदा तो की। लेकिन चंडीगढ़ में नवजोत सिंह सिद्धू से जब पत्रकारों ने पूछा कि पाकिस्तान की इस हरकत पर आपका क्या कहना है?..

जम्मू में लोकल और कश्मीरी छात्रों की आपसी झड़प के बहाने जम्मू को विलेन बनाने की साजिश, कश्मीर के नेता भी साजिश में शामिल

  जम्मू कश्मीर में भारी बर्फबारी के चलते कश्मीर घाटी और जम्मू के बीच यातायात ठप्प पड़ा है। जिसके चलते हज़ारों छात्र और कश्मीरी पैसेंजर जम्मू शहर में फंस गये। जाहिर है इनकी मुसीबत बढ़नी तय थी। साइंस कॉलेज जम्मू के पास एक बिल्डिंग में जमा कुछ कश्मीरी स्टूडेंट्स ने बदइंतजामी के विरोध में प्रदर्शन किया, जिसमें एंटी-इंडिया नारेबाज़ी भी की गयी। साइंस कॉलेज के छात्रों ने इसका विरोध किया तो वहां हंगामा खड़ा हो गया। इसको लेकर कुछ वीडियोज़ सोशल मीडिया पर शेयर किये गये जिसमें दावा किया गया कि कश्मीरी ..

पोल-खोल: संयुक्त राष्ट्र, जनमत-संग्रह और कश्मीर- जानिए कैसे अलगाववादी 70 सालों से इन शब्दों के मायाजाल में गुमराह कर रहे हैं

1947 से लेकर आज तक यानि 2019, चाहे शेख अब्दुल्ला हों, या उसके बाद प्लेबीसिट फ्रंट बनाकर काम करने वाले मिर्जा अफजल बेग हों, गिलानी हों, अब्दुल गनी भट्ट हों या मसरत आलम, सबने केवल इतिहास के तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर पेश किया है। ताकि जम्मू कश्मीर की युवा पी..

देखिए, डिविज़न बनने के बाद लद्दाख में कहां है जश्न का माहौल, और कश्मीर घाटी के किन नेता-बुद्धिजीवियों के दिल में पसरा मातम

  जम्मू कश्मीर में शुक्रवार को लद्दाख को डिविज़न बनाने की खबर फैली ही थी, कि राज्य प्रशासन ने नये डिविज़न का डीसी यानि डिविजनल कमिश्रनर की नियुक्ति भी कर दी। प्रशासन की तत्परता देख लेह-कारगिल के लोग जश्न में डूब गये। लद्दाख में मिठाईयां बांटी गयी। लेह में लोग पारंपरिक डांस करते देखे गये। हों भी क्यूं न आखिर पहली बार लद्दाख के लोगों को एक अलग पहचान मिली थी, जोकि 70 सालों से कश्मीर घाटी के साये तले दबी थीँ। देखिए जश्न की तस्वीरें-  दशकों पुरानी मांग पूरी होने पर जश्न में डूबे लद्दाख ..

लद्दाख बना तीसरा डिविज़न, तो निगल नहीं पा रहे हैं कश्मीर घाटी के नेता और पत्रकार लद्दाख की छोटी-सी खुशी, देखिए कैसे जलकर खाक हुए जा रहे हैं

लद्दाख बना तीसरा डिविज़न, तो निगल नहीं पा रहे हैं कश्मीर घाटी के नेता और पत्रकार लद्दाख की छोटी-सी खुशी, देखिए कैसे जलकर खाक हुए जा रहे हैं..

पॉलिटिक्स की पहली परीक्षा में ही फुस्स हुए आईएएस टॉपर शाह फैज़ल, 15 दिन में 50 हजार चंदा भी नहीं जुटा पाये, पहली रैली में लगे इस्लामिक निज़ाम के नारे

  जम्मू कश्मीर में पिछले महीने आईएएस पद से इस्तीफा देकर शाह फैज़ल ने सनसनी मचा दी थी। सोशल मीडिया पर बताया गया कि जम्मू कश्मीर की राजनीति में क्रांति आने वाली है। शाह फैज़ल ने भी दावा किया कि वो केजरीवाल और इमरान खान जैसी राजनीति करना चाहते हैं। लेकिन सोशल मीडिया के बुलबुले असल धरातल पर फूटते नजर आ रहे हैं। 22 जनवरी को शाह फैज़ल ने एक ऑनलाइन चंदा इकठ्ठा करने की मुहिम शुरू की थी। सोशल मीडिया पर इसका जोरदार प्रचार किया गया। टारगेट रखा गया 70 दिनों में 70 लाख इकठ्ठा करने का। जिससे शाह फैज़ल ..

क्या.. लिबरल गैंग के लिए शहीद इशरत मुनीर की कीमत एक ट्वीट भी नहीं, शर्मनाक !!

क्या.. लिबरल गैंग के लिए शहीद इशरत मुनीर की कीमत एक ट्वीट भी नहीं, शर्मनाक !!..

#AchchheDin जम्मू क्षेत्र में पीएम मोदी की गिफ्ट्स की बरसात। स्वास्थय, शिक्षा, बिजली, सड़क और पानी, सबका होगा विकास

 अपने जम्मू कश्मीर दौरे के दौरान जम्मू के वियजापुर में एक रैली को संबोधित किया। जिसमें पीएम मोदी ने जम्मू क्षेत्र के लिए स्वास्थय, शिक्षा, बिजली, सड़क और पानी से जुडी अनेक योजनाओं का शिलान्यास किया। एक ही मंच से पीएम मोदी ने करीब 6 हज़ार करोड़ की विकास योजनाओं को जम्मू क्षेत्र को समर्पित की। ये हैं वो विकास योजनाएं-स्वास्थ्य- सांबा, जम्मू में 1661 करोड़ की लागत से 258 एकड़ की भूमि पर बनने वाले एम्स का शिलान्यास किया। जिसमें 750 बेड्स की सुविधा उपलब्ध होगी।  शिक्षा- 26 करोड़ ..

ये होगा सज्जाद लोन की पार्टी का चुनावी सिंबल, थर्ड फ्रंट बनाने का किया ऐलान, जानिए कौन होंगे थर्ड फ्रंट में शामिल

  जम्मू कश्मीर में चुनावी तापमान चढ़ने लगा है, 3 फरवरी को पीएम मोदी जम्मू में रैली कर चुनावी बिगुल बजायेंगे तो बाकी पार्टियों ने भी ताल ठोंकनी शुरू कर दी है। सज्जाद लोन ने अपनी पार्टी पीपल्स कॉन्फ्रेंस का चुनाव चिन्ह तय कर लिया है। जो कि एप्पल यानि सेब होगा। जम्मू कश्मीर में सेब कश्मीरी पहचान और तरक्की की निशानी के तौर पर देखा जाता है। सज्जाद लोन ने भी सेब को इकॉनोमिक पावर की निशानी के तौर पर पेश किया है। एप्पल चुनाव का सुझाव गुलमर्ग के पूर्व एमएलए अब्बास वानी ने सुझाया है।  इधर ..

क्या मोदी सरकार कर रही है श्री राम जन्मभूमि के पास मंदिर निर्माण की तैयारी, सुप्रीम कोर्ट से मांगी आसपास की 67 एकड़ भूमि श्री राम जन्मभूमि न्यास को वापिस लौटाने की मंजूरी

  अयोध्या में श्रीराम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू करने के लिए मोदी सरकार ने एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल की है और अयोध्या में विवादित भूमि के आसपास 67 एकड़ गैर-विवादित भूमि वापिस श्री राम जन्मभूमि न्यास को लौटाने के लिए मंजूरी मांगी है। जिसको 1991 में केंद्र सरकार ने श्री राम जन्मभूमि न्यास से अधिग्रहण कर लिया था। ये जमीन विवादित 2.77 एकड़ के आसपास की जमीन है। केंद्र सरकार चाहती है कि ये जमीन श्री राम जन्मभूमि न्यास को वापिस कर दी जाये। ये इस पर कोई ..

3 फरवरी को मोदी का जम्मू कश्मीर दौरा, होगी नये प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन की बरसात

   जम्मू कश्मीर में विकास कार्यों को लेकर केंद्र सरकार ने एक नयी मुहिम छेड़ रखी है। केंद्र सरकार ने परिवहन, स्वास्थ्य और स्पोर्ट्स जैसे दर्जनों प्रोजेक्ट्स के लिए 80 हज़ार करोड़ से ज्यादा फंड का पैकेज हाल में मुहैया कराया था। अब 3 फरवरी को पीएम नरेंद्र मोदी जम्मू कश्मीर के दौरे पर जाने वाले हैं। जिसमें माना जा रहा है कि राज्य के विकास के लिए दर्जनों नये प्रोजेक्ट्स की घोषणा की जायेगी। साथ ही उन प्रोजेक्ट्स का उद्धाटन किया जायेगा। जिन पर काम पहले से शुरू हो चुका है।  इनमें ..

रिपब्लिक डे स्पेशल: जानिए भारतीय संविधान में कैसे रचा-बसा है जम्मू कश्मीर, 6 खास बातें

भारत अपना 70वां गणतंत्र दिवस माना रहा है। आज के दिन यानि 26 ज़नवरी 1950 में भारत में नया संविधान लागू हुआ था। राजपथ पर देश के लिए जान न्यौछावर करने वाले कश्मीरी देशभक्त नज़ीर अहमद वानी का परिवार राष्ट्रपति के हाथों से शौर्य चक्र ले रहा था, वो इस बात की नज़ीर है कि जम्मू कश्मीर में भारतीय संविधान और भारतीय संविधान में जम्मू कश्मीर न सिर्फ एक दूसरे में गुथा है, बल्कि जम्मू कश्मीर के दिलों में, रग-रग में दौड़ रहा है। चलिए जानते हैं इस संवैधानिक मिलन का सिलसिलेवार वर्णन- 1. 1949 मे कर्ण सिंह ने देश ..

शाह फैसल ने शुरू की 'चंदे की राजनीति', कठुआ केस में फंड-स्कैम का आरोपी ग्रुप कर रहा है ऑनलाइन फंडरेजिंग

जम्मू कश्मीर में IAS पद से इस्तीफा देने वाले शाह फैसल ने राजनीति में अपनी शुरुआत कर चुके हैं। लेकिन फैसल का पहला कैंपेन वोट के लिए नहीं बल्कि चंदा इकट्ठा करने के लिए है। जिसके तहत शाह फैसल ने एक ऑनलाइन Fundraising के साथ मिलकर एक ऑनलाइन कैंपेन शुरू किया है। जिसमें शाह फैसल ने लोगों से जम्मू कश्मीर में बदलाव की राजनीति के लिए चंदा देने की अपील की है। इस कैंपेन के तहत शाह फैसल ने लगभग 2 महीनों में 70 लाख रुपये इकट्ठा करने का लक्ष्य रखा है। लेकिन पहले 2 दिनों में शाह फैसल 15 हज़ार के आसपास ही चंदा इकठ्ठा ..

लंदन ईवीएम हैकिंग ड्रामा: कांग्रेस का लोकतंत्र का अपहरण करने का अंतरराष्ट्रीय षड्यंत्र

आज लंदन में अमेरिका का एक हैकर, जिसने अपनी पहचान छुपा रक्खी थी, ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में अतर्कसंगत घोषणा की भारत के 2014 के चुनाव में ईवीएम को हैक किया गया था और ईवीएम मशीन हैक की जासकती है। इतना बड़ा आरोप लगाने वाले ने अपनी बात की पुष्टि के लिए न कोई साक्ष्य प्रस्तुत किये है और न ही कोई साक्ष्य देने की बात कही है। यह सिर्फ और सिर्फ लांछन लगाने के लिए किया गया आरोप है।  मेरे लिए यह कुछ नही है। यह भारत मे 2019 के लोकसभा चुनाव को प्रभावित करने के लिए सिर्फ कांग्रेस का अंतराष्ट्रीय स्तर का, विदेश ..

जेएनयू टुकड़े-टुकड़े गैंग के खिलाफ चार्जशीट पर केजरीवाल सरकार ने नहीं दी अनुमति, 19 को कैसे होगी सुनवाई

  जेएनयू में भारत विरोधी नारेबाजी करने वाले देशद्रोह के मामले दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट फाइल तो कर दी है, लेकिन इसमें दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने अडंगा अड़ा दिया है। नियमों के मुताबिक दिल्ली पुलिस को राज्य सरकार के कानूनी विभाग से परमिशन लेनी पड़ती है। जिसके बाद यह फाइल लेफ्टिनेंट गवर्नर के पास भेजी जाती है. उसके बाद ही पुलिस को मामले में आगे बढ़ने की हरी झंडी मिलती है। पुलिस ने चार्जशीट फाइल कर दी है, और 14 जनवरी को कानूनी विभाग के पास परमिशन के लिए फाइल भेज दी थी, लेकिन यहां पर केजरीवाल ..

विरोधी कश्मीरी मीडिया भी मानने लगा है कि कश्मीर घाटी में बीजेपी आ चुकी है, छा चुकी है

  कश्मीर घाटी के जाने माने अखबार ग्रेटर कश्मीर में एक फुल पेज़ आर्टिकल छपा, जिसको देखकर मीडिया और राजनीति के गलियारों में हलचल मच गयी। आर्टिकल का शीर्षक था- Once Non-Entity in Kashmir Politics, BJP is making inroads in Valley. यानि आर्टिकल कश्मीर घाटी में बढ़ती धमक को लेकर लिखा गया था। जिसमें अखबार ने बीजेपी के लोकल कश्मीरी नेताओं से बात की और उनकी आने वाले चुनावों की तैयारी पर राय ली। ग्रेटर कश्मीर के इस आर्टिकल पर खासी प्रतिक्रिया दिखाई दी। विरोधियों ने तो यहां तक कह दिया कि क्या ग्रेटर ..

Indian Express ने रानी लक्ष्मीबाई पर बनी फिल्म मणिकर्णिका को बताया देश तोड़ने वाली फिल्म, लॉजिक सुनकर आप भी हैरान हो जायेंगे

 मोदी सरकार का विरोध समझ में आता है, लेकिन पिछले साढ़े 4 सालों में देशभक्ति या अपने स्वर्णिम इतिहास की बात करना गुनाह साबित करने की कोशिश की जा रही है। इसको एक साजिश करार देने की कोशिश लगातार जारी है। इंडियन एक्सप्रैस ने लेख प्रकाशित किया है, जिसके मुताबिक रानी झांसीबाई पर बनी फिल्म मणिकर्णिका एक साजिश का हिस्सा है। जो देश को तोड़ने की साजिश का हिस्सा है, आप सोचेंगे क्या....!!!!  हमारे आजादी के लिए अंग्रेंजों के खिलाफ लड़ने वाली वीरांगना पर बनने वाली फिल्म आखिर देश के लोगों को बांटने ..

जेएनयू के टुकड़े-टुकड़े गैंग की उल्टी गिनती शुरू, कन्हैया, उमर खालिद समेत 7 कश्मीरी छात्रों के खिलाफ चार्जशीट फाइल

  2 फरवरी 2016 में जेएनयू में देश विरोधी नारेबाजी करने केस में दिल्ली पुलिस ने आज पटियाला कोर्ट में 1200 पन्नों की चार्जशीट फाइल कर दी, जिसमें जेएनयू के पूर्व छात्र अध्यक्ष कन्हैया कुमार, उमर खालिद और अनिर्बन भट्टाचार्य समेत कुल 10 छात्रों को चार्जशीट में आरोपी बताया है। आरोपियों में 7 कश्मीरी छात्र भी है, जिनके नाम हैं- आकिब हुसैन, मुजीब हुसैन, उमर गुल, रईसा रसूल, बशीर भट् और बशारत अली । ये सातों छात्र जेएनयू, जामिया और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र हैं।  पटियाला कोर्ट में मेट्रोपॉलिट..

'Accidental Prime minister' फिल्म समीक्षा

  संत शर्मा   एक दशक होने आया थिएटर जाकर फिल्म देखना लगभग छूट गया . ऐसा नहीं की इस बीच मैंने फ़िल्में नहीं देखीं, अधिकतर फ़िल्में घर बैठकर टेलीविजन पर देखीं, कुछ इंटरनेट से डाउनलोड कर लैपटॉप पर देखीं. चूँकि नयी फिल्म एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर घर बैठे टेलीविज़न पर देखना संभव नहीं था इसलिए थिएटर जाने के अलावा दूसरा कोई चारा न था. पर सच मानिये शनिवार की शाम कुछ दिलचस्प और मनोरंजक देखने में गुज़रीभारत की राजनीति समझने, राजनीति में जो कुटिलता और छल कपट है, वो जानने के लिए एक्सीडेंटल ..

आईएएस टॉपर शाह फैज़ल ने दिया इस्तीफा, अब्दुल्ला की पार्टी ज्वाइन कर लड़ेगे लोकसभा चुनाव, शहला रशीद भी हो सकती हैं शामिल

आईएएस टॉपर शाह फैज़ल ने दिया इस्तीफा, अब्दुल्ला की पार्टी ज्वाइन कर लड़ेगे लोकसभा चुनाव, शहला रशीद भी हो सकती हैं शामिल..

ऊंची जातियों के गरीबों को मिलेगा 10 फीसदी आरक्षण, कैबिनेट की मुहर, सकते में विपक्ष

  मोदी सरकार ने चुनाव से पहले मास्टरस्ट्रोक लगाते हुए ऊंची जातियों के गरीबों के लिए आरक्षण की घोषणा कर दी है। गरीबों को इसका लाभ नौकरियों और शिक्षा में मिलेगा। आरक्षण का ये कोटा अभी 10 फीसदी रखा गया है। सूत्रों के मुताबिक इस फैसले पर कैबिनेट ने मुहर लगा दी है। शुरूआती जानकारी के मुताबिक सालाना 8 लाख से कम आमदनी वाले ऊंची जातियों के लोगों को इस आरक्षण का लाभ मिलेगा। ये कोटा पिछड़ी जातियों और जनजातियों के लिए लागू 50 फीसदी आरक्षण के अलावा होगा। यानि अब कुल 60 फीसदी आरक्षण हो जायेगा।  ..

महबूबा ने 2016 में मारे गये पत्थरबाज़ों को बताया ‘शहीद’, टॉफी-मिल्क वाले रिमार्क पर भी मांगी माफी

महबूबा ने 2016 में मारे गये पत्थरबाज़ों को बताया ‘शहीद’, टॉफी-मिल्क वाले रिमार्क पर भी मांगी माफी..

J&K: बढ़ता जा रहा है बीजेपी का काफिला, पीडीपी के दर्जन बड़े नेता बीजेपी में शामिल

  जम्मू कश्मीर में बीजेपी इस बार बड़ी संभावना के तौर पर देखी जा रही है, यहीं वजह है कि बीजेपी में आये दिन दूसरी पार्टी के नेता शामिल हो रहे हैं। सोमवार को रामबन में पीडीपी के दर्जन भर नेताओं ने बीजेपी का दामन थाम लिया। इनमें पिछली बार पीडीपी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ने वाले स्वामी राज भगत अपने सैंकड़ों समर्थकों के साथ बीजेपी में शामिल हो गये, इसके अलावा एडवोकेट स्वर्ण किशोर के अलावा करीब 10 नवनिर्वाचित सरपंचों ने बीजेपी पर भरोसा जताया है।  तमाम नेताओं ने बीजेपी के नवरत्न सम्मेलन ..

कश्मीर में आतंकियों का असली हमदर्द कौन, इसको लेकर आपस मे भिड़े महबूबा और उमर अब्दुल्ला

   कुछ ही दिन पहले की ही बात है जब महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला मिलकर सरकार बनाने की कोशिश कर रहे थे, जब राज्यपाल ने उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया तो दोनों ट्विटर पर एक दूसरे के ट्वीट पर लाइक और विंक स्माइली के साथ रिप्लाई कर रहे थे। सबको लगा दोनों के बीच नयी राजनीतिक खिचड़ी पक रही है। लेकिन राजनीति जल्द ही सबका चेहरा उजागर कर देती है। पिछले चौबीस घंटों से महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला एक बार फिर आमने-सामने हैं, वो भी ट्विटर पर। दोनों ये साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि कश्मीर ..

आतंक की राजनीति- महबूबा घर-घर जाकर दे रही हैं मारे गये आतंकियों के घरवालों को सांत्वना

आतंक की राजनीति- महबूबा घर-घर जाकर दे रही हैं मारे गये आतंकियों के घरवालों को सांत्वना..

“साढ़े 4 साल में केंद्र ने जितना फंड जम्मू कश्मीर को दिया, उतना 70 सालों में आज तक नहीं दिया गया”- राजनाथ सिंह

  जम्मू कश्मीर राष्ट्रपति शासन की घोषणा पर आज राज्यसभा में बहस हुई। जिसमें तमाम विपक्षी पार्टियों ने केंद्र से राष्ट्रपति शासन की जरूरत पर सवाल पूछे। इस दौरान विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने केंद्र सरकार पर पिछले साढ़े सालों में जम्मू कश्मीर के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया। इसके जवाब में केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने विपक्षी पार्टियों के आरोप को पूरी तरह से खारिज कर दिया और राज्य में पिछले साढ़े 4 साल में किये गये कार्यों का ब्यौरा दिया।  जम्मू कश्मीर में रोजगार की बहार ..

पीडीपी को एक और झटका, सईद असगर अली ने छोड़ी पार्टी

 पीडीपी के बड़े नेता, पूर्व एमएलसी सईद असगर अली ने पार्टी छोड़ने का ऐलान कर दिया है। असगर अली ने आरोप लगाया है कि मेहबूबा मुफ़्ती ने चेनाब वैली के लोगों के लिए काम नहीं किया। लिहाज़ा वो पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से हैं। गौरतलब है कि सईद असगर अली को 6 सदस्यीय पोलिटिकल अफेयर कमिटी का मेंबर बनाया गया था, जिसके हेड मुज़फ्फर बेग हैं। असगर अली को 2014 में एमएलसी के लिए पीडीपी ने नॉमिनेट किया था। पीडीपी के लिए ये एक और बड़ा झटका है , वो भी जब मेहबूबा मुफ़्ती जनता के बीच घूमकर पार्टी समर्थन जुटाने में ..

बढ़ता जा रहा है सज्जाद लोन का कारवां, पीडीपी के बड़े नेता शामिल

 विधान सभा चुनाव से पहले कश्मीर घाटी में सज्जाद लोन के साथियों की कतार दिन ब दिन लंबी होती जा रही है, और पीडीपी की सबसे छोटी। पीडीपी के एक और नेता राजा ऐजाज़ अली ने आज पीपल्स कॉन्फ्रेंस का दामन थाम लिया। कभी जम्मू कश्मीर पुलिस में आईजी रहे राजा ने 2014 में पीडीपी ज्वाइन कर पॉलिटिक्स में कदम रखा था। सज्जाद ने लगा लगाया ADGP पर राजनीति का आरोप सज्जाद लोन ने ट्ववीट कर जम्मू कश्मीर पुलिस के एक अडिशनल डीजीपी पर राजनीति में दखल देने का आरोप लगाया है। सज्जाद लोने का कहना है कि वो अधिकारी ओहदे का ..

पीडीपी और एनसी की ''छोटी-सी लव स्टोरी का The End'', मेहबूबा ने अब्दुल्ला पर लगाया एमएलए की खरीदारी का आरोप

 पिछले महीने जम्मू कश्मीर की राजनीति में एक नया दिलचस्प मोड़ आया जब, मेहबूबा मुफ़्ती और अब्दुल्ला फैमिली मिलकर सरकार बनाने को तैयार हो गए। सरकार तो नहीं बनी , लेकिन मेहबूबा और उमर अब्दुल्ला ट्विटर पर एक दूसरे की तारीफों के पूल बांधते रहे। एक दूसरे के ट्वीट्स और बयानों को लिखे करते रहे। राजनीति के चाहने वालों को लगा की नया गठबंधन परवान चढ़ रहा है। जिसका नतीजा शायद प्री-पोल अलायंस के रूप में देखने को मिलेगा।  लेकिन विधानसभा भांग होने के बाद पीडीपी के कई बड़े नेता सज्जाद लोन की पार्टी में ..

पीएम मोदी ने की जम्‍मू-कश्‍मीर के नए सरपंचों से मुलाक़ात,गाँवों को विकसित करने का भरोसा दिया

 जम्‍मू-कश्‍मीर की पंचायतों के 48 नव-निर्वाचित सरपंचों ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और राज्य के विकास के लिए उनसे सहायता मांगी। सरपंचों के शिष्‍टमंडल का नेतृत्‍व ऑल जम्‍मू एडं कश्‍मीर पंचायत कांफ्रेंस (एजेकेपीसी) के अध्‍यक्ष शफीक मीर ने किया। यह कांफ्रेंस राज्य के पंचायत नेताओं का शीर्ष निकाय है। शिष्टमंडल ने प्रधानमंत्री से भेंट करके लोकल बॉडीज जैसे पंचायतों और शहरी निकायों को मजबूत बनाने और राज्य में शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव संपन्न ..

पीडीपी में भगदड़ जारी, 2 सीनियर लीडर्स ने पार्टी छोड़ नेशनल कांफ्रेंस ज्वाइन की

  जम्मू कश्मीर में पीडीपी की हालत लगातार कमज़ोर होती जा रही है, हर दो तीन दिन बाद कोई न कोई बड़ा नेता पार्टी छोड़ दूसरी पार्टी ज्वाइन कर रहा है। बुधवार को पार्टी के सीनियर लीडर बशारत बुखारी और पीर मुहम्मद हुसैन ने पार्टी छोड़ नेशनल कांफ्रेंस का दामन थाम लिया। दोनों नेताओं ने फारूख अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए। बशारत बुखारी बारामुला ज़िले के संगरामा सीट से 2004 और 2008 में विधायक चुने गए थे और हालिया बर्खास्त सरकार में पीडीपी के कोटे से मंत्री भी थे। जबकि पीर ..

काटजू ने फिर बदला रंग, कहा कश्मीरियों को आज़ादी नहीं भारत-पाकिस्तान को एक करने की मांग करनी चाहिए

रिटायर्ड जस्टिस मार्कण्डेय काटजू हमेशा अपने ऊल-जुलूल बयानों को लेकर विवादों में रहते हैं। हाल ही में पुलवामा में पत्थरबाजों के मारे जाने के बाद काटजू ने आर्मी चीफ की तुलना को अँगरेज़ जनरल डायर से कर दी। जिसके बाद काटजू के बयान को पाकिस्तान में प्रोपगेंडा के तौर पर जमकर चलाया गया। लेकिन इंडिया में काटजू के बयान की जमकर धज्जियां उड़ाई गयी। इस मामले में मुँह की खाने के बाद जस्टिस काटजू ने फिर से एक फेसबुक पोस्ट लिख मारा। इस बार काटजू ने कश्मीरियों को आज़ादी की मांग पर सवाल उठाया कहा- कश्मीरियों को आज़ादी ..

J&K में 22 साल बाद लागू होगा राष्ट्रपति शासन

  गवर्नर सत्यपाल मालिक द्वारा जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश के बाद केंद्र सरकार ने भी इस पर अपनी मुहर लगा दी है। यानि आधिकारिक रूप से 20 दिसंबर से जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लागू हो जायेगा, जोकि चूंकि 19 दिसंबर को राज्य में 6 महीने से लागू राज्यपाल शासन समाप्त हो रहा है। हालाँकि राज्य में प्रशासन की कमान अभी भी राज्यपाल के हाथों में ही होगी। लेकिन राज्यपाल को अब केंद्र सरकार और राष्ट्रपति के नुमाइंदे के तौर पर काम करेंगे। राज्य में वित्तीय फैसलों की कमान अब संसद के पास ..

अमित शाह की नजर अब जम्मू कश्मीर पर, जम्मू के बाद कश्मीर घाटी में पैठ बनाने का प्लान तैयार

  जम्मू कश्मीर में चुनावी बिसात बिछ चुकी है, पार्टियां धीरे-धी अपनी रणनीति तैयार करने लगी है। बीजेपी इस बार इस मुहिम में सबसे आगे दिखाई दे रही है। पार्टी के स्टेट औऱ नेशनल लेवल के पदाधिकारी जल्द ही एक मीटिंग कर जम्मू कश्मीर में सरकार बनाने के प्लान को अंतिम रूप देगी। शहरी निकाय चुनावों में शानदार प्रदर्शन करने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के प्लान के मुताबिक अब पूरा ज़ोर कश्मीर घाटी पर होगा। इस महीने पीएम मोदी को कुछ नये प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन के लिए लिए जम्मू कश्मीर जाना है। उससे पहले ..

J&K में डेवलपमेंट स्पीड ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, जल्द बनेंगे IIT, IIM & AIIMS, गवर्नर राज के 6 महीनों की रिव्यू रिपोर्ट

  जम्मू कश्मीर में पिछले 6 महीनों में गवर्नर सत्यपाल मलिक ने वो कर दिखाया है। जो राज्य की चुनी हुई सरकार दशकों में नहीं कर पायी। राज्य में राज्यपाल शासन के 6 महीने पूरे होने पर गवर्नर सत्यपाल मलिक मीडिया से मुखातिब हुए और डेवलपमेंट के प्रोजेक्ट्स का ब्यौरा दिया। गवर्नर के मुताबिक जल्द ही राज्य में अपनी IIT, IIM और दो-दो AIIMS जैसे इंस्टीट्यूशन होंगे। इसके लिए प्राइममिनिस्टर डेवलपमेंट पैकेज के तहत 80 हज़ार करोड़ रूपये आवंटित हो चुके हैं और कैंपस के लिए जमीन चिन्हित की जा चुकी है। साथ ही ..

राजस्थान-एमपी-छत्तीसगढ़ के बाद जम्मू कश्मीर में बढ़ती ठंड के साथ बढ़ा चुनावी पारा, PDP-NC मिलकर बीजेपी को घेरने की फिराक में

  5 राज्यों में चुनावी नतीजे आने के बाद अब जम्मू कश्मीर में भी चुनावी मैदान तैयार हो चुका है। तमाम पार्टियों ने आरोप, बयानों और मुलाकातों का सिलसिला शुरू कर दिया है। लगभग तय है कि पीडीपी और नेशनल कांफ्रेस मिलकर बीजेपी को सत्ता से रोकने की तैयारी कर चुके हैं। दोनों पार्टियां विधानसभा भंग के बाद से लगभग एक ही सुर में बात कर रही हैं। पिछले 24 घंटों में पीडीपी और एनसी के नेताओं ने अलग-अलग बयानों में बीजेपी को चुनाव से पहले मुख्यमंत्री पद के लिए नाम की घोषणा करने की चुनौती दी है। सोमवार को पीडीपी ..

J&K: पीडीपी छोड़ो अभियान जारी, एक और पूर्व एमएलए ने छोड़ी पार्टी

  जम्मू कश्मीर में मेहबूबा मुफ्ती की पार्टी पीडीपी एक ऐसा डूबता जहाज हो गया है, जिसको रोज़ाना कोई न कोई नेता छोड़कर दूसरी पार्टी से जुड़ रहा है। इसी कड़ी में पीडीपी नेता और निवर्तमान एमएलए अब्बास वानी ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। अब्बास वानी बारामुला जिले के तंगमार्ग सीट से विधायक थे। अभी पिछले हफ्ते ही पूर्व फायनेंस मिनिस्टर हसीब द्राबू, पूर्व एमएलए आबिद अंसारी ने पार्टी छोड़ी थी। आबिद अंसारी ने तो पार्टी छोड़ने के तुरंत बाद सजाद लोन की पार्टी ज्वाइन कर ली थी। बताया जा रहा है कि ..

आम आदमी पार्टी जम्मू कश्मीर में लड़ेगी चुनाव, श्रीनगर की दीवारों को पोस्टर्स से किया बदरंग

 जम्मू कश्मीर में चुनावी आहट सुनते ही आम आदमी पार्टी ने भी दावा ठोंकने की तैयारी शुरू कर दी है। अब तक ठंडी पड़ी राज्य की पार्टी यूनिट में अचानक गर्मी आ गयी है। पार्टी ने श्रीनगर और गंदरबल समेत घाटी के कई क्षेत्रों में पार्टी की सदस्यता के लिए नये सिरे से अभियान की शुरूआत की है। इसके लिए पार्टी ने श्रीनगर शहर के कई इलाकों में दीवारों की आम आदमी पार्टी के पोस्टरों से पाट दिया है। गौरतलब है कि मई 2018 में पार्टी की स्टेट यूनिट का गठन किया गया था। लेकिन महीनों तक पार्टी चुनिंदा कार्यकर्ताओं में कोई ..

आखिर क्यों भंग की राज्यपाल ने विधानसभा, लोकसभा चुनाव के साथ होंगे चुनाव

बुधवार को जम्मू कश्मीर में एक ऐसा राजनैतिक ड्रामा खेला गया, जिसका पटाक्षेप विधानसभा भंग के रूप में हुआ। सुबह अचानक खबर उड़ी की पीडीप-नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेस मिलकर राज्य में सरकार बनाने का दावा कर सकती है। सीएम का नाम भी लगभग तय हो गया, लेकिन शाम को अचानक माहौल बदलने लगा। सज्जाद लोन ने भी सरकार बनाने का दावा ठोंक दिया। इस सब ड्रामे के बीच राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने अंतिम दांव चला। राज्यपाल ने संवैधानिक शक्ति का प्रयोग करते हुए विधान सभा को भंग कर दिया। विधानसभा भंग करने को लेकर राज्यपाल ने 4 ..

पीडीपी के अल्ताफ बुखारी होंगे नये मुख्यमंत्री, गठबंधन जल्द गवर्नर से मिलकर करेगा दावा

  पिछले कुछ घंटों में जम्मू कश्मीर में राजनीतिक हालात 180 डिग्री बदल चुके हैं। पीडीपी, नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेस के गठबंधन के बाद अब मुख्यमंत्री का नाम लगभग तय हो चुका है। मेहबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला में से कोई भी मुख्यमंत्री का दावेदार नहीं होगा। बल्कि 28 विधयाकों की पार्टी पीडीपी के नेता अल्ताफ बुखारी को मुख्यमंत्री बनाये जाने पर सबकी सहमति हो चुकी है। इसको लेकर अल्ताफ बुखारी ने उमर अब्दुल्ला से मुलाकात की और सरकार बनाने के फॉर्मूले पर चर्चा की। अल्ताफ बुखारी अमीरा कडल सीट से ..

बीजेपी को रोकने के लिए लिए पीडीपी-नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेंस मिलकर बनायेंगे सरकार?

  जम्मू कश्मीर में राजनीतिक हवा का रूख एकदम बदलने लगा है। राज्य में बीजेपी के बढ़ते कदमों को रोकने के लिए पीडीपी, नेशनल कांफ्रेंस औऱ कांग्रेस मिलकर सरकार बनाने की तैयारी चल रही है। कांग्रेंस की सेंट्रल लीडरशिप ने इस एलायंस को बाहर से समर्थन देने की घोषणा कर दी है। गुरूवार से पहले इसकी घोषणा की जा सकती है।   जम्मू कश्मीर विधानसभा, कुल संख्या- 87 पीडीपी- 28, बीजेपी- 25नेशनल कांफ्रेंस- 15, कांग्रेस- 12, अन्य- 7 सरकार के लिए जरूरी आंकड़ा- 44   गौरतलब है ..

J&K: पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में झमाझम मतदान, कुपवाड़ा में 70% और बंदीपोरा में 66%

   जम्मू कश्मीर पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में भारी मतदान दर्ज किया गया है। 14 जिलों की पंचायत के लिए मतदान का कुल प्रतिशत 63 फीसदी रहा। घाटी के कुपवाड़ा में मतदान 70 फीसदी के आसपास रहा। जबकि आतंकवाद प्रभावित बंदीपोरा में 66.3 फीसदी लोगों ने अपने सरपंच औऱ पंचों के लिए वोट डाले। हालांकि अनंतनाग के अच्छाबल में 4 आतंकी मारे जाने के बाद पत्थरबाज़ी की घटनाएं सामने आयीं और मतदान बुरी तरह प्रभावित हुआ। यहां सिर्फ 1 फीसदी मतदान दर्ज किया गया।उधर जम्मू संभाग के किश्तवाड़ में करीब 78 फीसदी, डोडा ..

पीडीपी को बड़ा झटका, मुज़फ्फर बेग़ करेंगे सज्जाद लोन का थर्ड फ्रंट ज्वाइन

 जम्मू कश्मीर की राजनीति में इन दिनों काफी उथल-पुथल मची है। इसी कड़ी में पीडीपी को एक बड़ा झटका लगा है। पीडीपी के फाउंडर मेंबर और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री मुज़फ्फर बेग ने पीडीपी को छोड़ थर्ड फ्रंट ज्वाइन करने की घोषणा कर दी है। यानि वो सजाद लोन की पार्टी पीपल्स कांफ्रेंस ज्वाइन कर सकते हैं। मुज़फ्फर बेग ने शहरी निकाय चुनाव बहिष्कार को जनता के साथ धोखा करार दिया। बेग ने एनसी पर आरोप लगाते हुए कहा कि नैशनल कांफ्रेस जब सत्ता में होती है तो दिल्ली के साथ खड़ी होती है। लेकिन जब वो सत्ता से ..

J&K: पंचायत चुनाव के पहले फेज़ में रिकॉर्ड मतदान, अलगाववादियों ने किया था बंद का ऐलान

जम्मू कश्मीर में लोगों ने एक बार फिर अलगाववाद को ठेंगा दिखाते हुए पंचायत चुनाव में भारी मतदान किया। पंचायत चुनाव के पहले फेज में चुनाव शांतिपूर्ण रहा। राज्य के कुल 47 ब्लॉक में मतदान कराया गया। कश्मीर घाटी के 16 ब्लॉक में से कुपवारा में 66.26 फीसदी, बंदीपोरा में 56 फीसदी, गुरेज में 42, तुलेल में 66, और बक्तूर में 62 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। जबकि जम्मू के 21 ब्लॉक और लद्दाख के 10 ब्लॉक में भी औसत मतदान 75 फीसदी से ज्यादा रहा। 12 बजे तक मतदान का आकंड़ा-      पहले फेज ..

नेशनल कांफ्रेस का यू-टर्न, विधानसभा चुनावों का बायकॉट नहीं करेगी पार्टी ?

  नेशनल कांफ्रेंस ने विधानसभा चुनाव होने की स्थिति में चुनाव में हिस्सा लेने की तरफ इशारा किया है। दरअसल बुधवार को बीजेपी नेता राम माधव ने चुटकी लेते हुए नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी से विधानसभा सवाल पूछा था कि जब आर्टिकल 35A का मुद्दा सुलझा नहीं है, और दूसरी तरफ दोनों पार्टियां असेंबली भंग करने की मांग कर रही हैं। तो ऐसे में दोनों विधानसभा चुनाव लडेंगी या बहिष्कार जारी रहेगा।     इस पर नेशनल कांफ्रेंस नेता उमर अबदुल्ला ने ट्वीट कर विधानसभा चुनाव लड़ने का स्पष्ट इशारा ..

जम्मू कश्मीर में सरकार बनने के आसार नहीं, गवर्नर राज के बाद अब लगेगा राष्ट्रपति शासन

 जम्मू कश्मीर के मौजूदा राजनीतिक हालात को देखते हुए साफ है कि राज्य में फिलहाल कोई जनता सरकार बनती दिखाई नहीं दे रही। लिहाजा 19 दिसंबर को राज्यपाल शासन के 6 महीने खत्म होने के बाद राज्य में राष्ट्रपति शासन लगना लगभग तय हो गया है। जम्मू कश्मीर राज्य के संविधान के मुताबिक राज्यपाल शासन के एक्सटेंशन का कोई प्रावधान नहीं है। ऐसे में राज्य में दो विकल्प बचते हैं, या तो राजनीतिक पार्टियां मिलकर सरकार बनायें। जिसके आसान दूर-दूर तक दिखायी नहीं दे रहे। या फिर अगले चुनावों तक राष्ट्रपति शासन लगाया जाये। &n..

बीजेपी के चंद्रमोहन गुप्ता बने जम्मू के नये मेयर, पूर्णिमा डिप्टी मेयर

 जम्मू म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन में पहली बार जीत हासिल करने वाली बीजेपी के चंद्रमोहन गुप्ता नये मेयर चुने गये हैं। जबकि पूर्णिमा शर्मा जम्मू की डिप्टी मेयर चुनी गयी हैं। आज हुये चुनाव में दोनों उम्मीदवारों को विजयी घोषित किया गया। गौरतलब है कि जम्मू शहरी निकाय चुनाव में बीजेपी ने धमाकेदार जीत हासिल करते हुए 75 वार्ड्स में से 43 पर कब्जा किया था। ये पहली बार है जब जम्मू शहर के निकाय में बीजेपी सत्ता में आयी है।  जम्मू के नवनिर्वाचित मेयर और डिप्टी मेयर  वहीं श्रीनगर में बीजेपी ..

पीडीपी, कांग्रेस औऱ नेशनल कांफ्रेंस को बड़ा झटका, श्रीनगर के मेयर बने जुनैद मट्टू

  जम्मू कश्मीर में शहरी निकाय चुनाव में झटके के बाद पीडीपी, कांग्रेस औऱ नेशनल कांफ्रेंस को एक औऱ बड़ी हार का मुंह देखना पड़ा। श्रीनगर मेयर के चुनाव में बीजेपी और सजाद लोन की पार्टी पीपल्स कांफ्रेंस के समर्थन से जुनैद मट्टू ने जीत हासिल कर ली है। यानि जम्मू के साथ अब श्रीनगर में भी बीजेपी गठबंधन की सत्ता काबिज़ हो गयी है। श्रीनगर नेशनल कांफ्रेंस औऱ पीडीपी का गढ़ है, इसीलिए यहां पर उनकी हार के बड़े मायने निकाले जा रहे हैं। हम आपको बता दें कि चुनाव लड़ने से पहले जुनैद मट्टू नेशनल कांफ्रेंस ..

3 नवंबर, 1947 भारत-पाकिस्तान युद्ध- महावीर चक्र विजेता दीवान सिंह की कहानी

    3 नवंबर 1947 को पाकिस्तानी हमलावर जम्मू कश्मीर के हिस्सों पर कब्जा करते हुए आगे बढ़ रहे थे। बड़गाम में पाकिस्तानी हमलावरों का मुकाबला हुआ दीवान सिंह की प्लाटून के साथ। इस प्लाटून में दीवान सिंह एक सिपाही के तौर पर तैनात थे। वो अपनी कंपनी के नंबर 1 ब्रेन गनर थे। हमलावरों ने दीवान सिंह की कंपनी पर 3 तरफ से हमला बोल दिया था। पाकिस्तानी हमलावरों की संख्या इतनी थी, कि प्लाटून कमांडर सोमनाथ शर्मा को पीछे हट जाने के ऑर्डर आ चुके थे। लेकिन दीवान सिंह की कंपनी ने हार नहीं मानी और डटे ..

सोपोर में श्री गणेश मंत्र के साथ ली बीजेपी काउंसलर ने पद ग्रहण की शपथ

  कश्मीर घाटी में शहरी निकाय चुनावों में बीजेपी ने कई रिकॉर्ड कायम किये हैं। इसी कड़ी में मंगलवार को सोपोर म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन में बीजेपी काउंसलर ने एक अलग रिवायत की शुरूआत की। वो थी श्री गणेश मंत्र के साथ शपथ ग्रहण । दरअसल मंगलवार को सोपोर के शाहाबाद वार्ड से जीते बीजेपी काउंसलर रोहित कुमार टाक ने शपथ दिला रहे अधिकारी से पूछा कि क्या वो अपनी धार्मिक मान्यता के हिसाब से शपथ ले सकते हैं। इस पर अधिकारी ने हां कहा, तो रोहित कुमार टाक ने श्री गणेश मंत्र “वक्रतुंड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ.....

श्रीनगर मेयर के लिए जुनैद मट्टू को बीजेपी का समर्थन, डिप्टी मेयर पद बीजेपी की झोली में?

   घाटी की राजनीति में एक औऱ उलटफेर करते हुए बीजेपी ने श्रीनगर के मेयर पद के लिए पीपल्स कांफ्रेंस के उम्मीदवार जुनैद मट्टू को समर्थन देने की घोषणा की दी है। श्रीनगर मेयर पद के लिए कुल 38 पार्षदों का वोट चाहिए। पूर्व मंत्री सजाद लोन की पीपल्स पार्टी के पास पहले से ही 30 पार्षद है, जिन्हें 8 वोट की ज़रूरत है। बीजेपी के कुल 5 पार्षद श्रीनगर निकाय चुनाव जीते हैं। बीजेपी का दावा है कि इन 5 के अलावा 7 आजाद उम्मीदवारों को भी बीजेपी ने समर्थन दिया था। लिहाजा वो भी बीजेपी की तरफ से वोट करेंगे। ..

जम्मू कश्मीर में करप्शन पर गवर्नर का वार, तिलमिलाई पूर्व सत्ताधारी पीडीपी

जम्मू कश्मीर में इन दिनों राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने करप्शन को मिटाने की मुहिम छेड़ रखी है। इस कड़ी में राज्यपाल ने पिछले हफ्ते ही एंटी करप्शन ब्यूरो का गठन किया। जो इससे पहले राज्य में नहीं था। करप्शन मिटाओ अभियान की इस कड़ी में राज्यपाल मलिक ने राज्य के कर्मचारियों के लिए लागू की गई रिलायंस जनरल इंश्योरेंस डील को भी रद्द कर दिया। जिसको लेकर राज्य में विरोध किया जा रहा था, कि किस तरह से तमाम नियमों को ताक पर रखकर राज्य में एक प्राइवेट कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए 30 हज़ार करोड़ के इंश्योरेंस का ठेका ..

उमर अब्दुल्ला ने फिर अलापा में स्वायत्तता का राग, राम माधव ने कहा जनता ने सिखा दिया इनको सबक

राज्य में शहरी निकाय चुनाव में अलग-थलग पड़ चुकी नैशनल कांफ्रेंस ने एक बार फिर ऑटोनॉमी का राग छेड़ना शुरू कर दिया है। गुरुवार को श्रीनगर में पार्टी पदाधिकारियों के साथ मीटिंग में उमर अब्दुल्ला ने कहा कि- ‘घाटी में रोजाना एनकाउंटर, किलिंग और CASO लगाये जाने की खबर मिलती रहती है। ऐसा लगता है कि सरकार घाटी पर से काबू खो चुकी है। ऐसे में सही समय है कि राज्य को ऑटोनॉमी दे दी जाये ।’ऐसा पहली बार नहीं है जब अब्दुल्ला फैमिली ने राज्य में पूर्ण स्वायत्तता की मांग की हो। राज्य में जब-जब पार्टी की ..

कश्मीर घाटी में अलगाववादियों ने भड़काई आग, बुधवार औऱ शुक्रवार को घाटी बंद का ऐलान

  कुलगाम दुर्घटना में आम शहरियों की मौत के बाद घाटी में अलगाववादियों ने घाटी में आग भड़काने की कोई कसर नहीं छोड़ी है। अलगाववादियों के संगठन जेआरएल यानि JOINT RESISTENCE LEADERSHIP ने आने वाले बुधवार औऱ शुक्रवार को घाटी में बंद का ऐलान किया है। मंगलवार को भी अलगाववादियों के संगठन जेआरएल ने बंद का ऐलान किया था। इसको श्रीनगर के लाल चौक पर अलगाववादी यासीन मलिक ने प्रदर्शन में हिस्सा लिया। जहां उसको पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा पुलिस ने दूसरे अलगाववादी ने मीरवाइज उमर फारूख को भी निगीन ..

जम्मू कश्मीर में बीजेपी ने रचा इतिहास, कुल 41 शहरों पर किया कब्ज़ा। कांग्रेस 23 और 18 शहरों में इंडिपेंडेंट आगे

जम्मू कश्मीर के इतिहास में बीजेपी ने तमाम शहरी निकाय चुनाव मे ऐतिहासिक प्रदर्शन किया है। जम्मू और कश्मीर, दोनों ही डिवीजन में बीजेपी सबसे आगे है। सबसे ज्यादा चौंकाने वाले आंकड़े कश्मीर घाटी के हैं यहां कुल 46 शहरों में से सबसे ज्यादा 15 शहरों पर बीजेपी का कब्ज़ा होगा। जबकि कांग्रेस 14 शहरों के निकायों पर अपनी सत्ता कायम करेगी। 5 शहरों में इंडिपेंडेंट सबसे आगे हैं। घाटी में बीजेपी की झोली में जाने वाले शहरों में साउथ कश्मीर के शोपियां, पुलवामा, अनंतनाग, कुलगाम जिलों में हैं। यहां बीजेपी ने कुल 103 ..

साउथ कश्मीर के 4 जिलों में बीजेपी का कब्जा, कांग्रेस ने भी की वापसी

आतंकवाद प्रभावित साउथ कश्मीर में बीजेपी ने शहरी निकाय चुनाव में जबरदस्त सफलता हासिल की है। परिणाम घोषणा के बाद आये परिणाम के मुताबिक बीजेपी ने शोपिंयां, पुलवामा, अनंतनाग औऱ कुलगाम में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। बीजेपी ने कुल 132 वार्ड्स में से 53 पर जीत हासिल की है। अब तक घोषित परिणाम के मुताबिक बीजेपी कम से कम 4 शहरों में निकायों पर कब्जा होगा। वहीं कांग्रेस ने इन 4 ज़िलों में कुल 28 सीटों पर जीत दर्ज की है। जिसके मुताबिक कम से कम 3 शहरों पर कांग्रेस का कब्ज़ा होगा।    इस बीच खबर ..

तो क्या जम्मू कश्मीर गवर्नर के दबाव में एएमयू ने 2 कश्मीरी छात्रों का निलंबन वापस लिया ?

  मंगलवार देर शाम अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी ने 2 कश्मीरी छात्रों का निलंबन वापस ले लिया। जिनको कैंपस में आतंकवादी मन्नान वानी का नमाज-ए-जनाजा पढ़ने और देशविरोध नारेबाज़ी करने के आरोप में निलंबित किया गया था। दरअसल निलंबन के बाद करीब 12 सौ छात्रों ने निलंबन वापस ने लिये जाने की सूरत में यूनिवर्सिटी छोड़ने की धमकी भी दी थी। ऐसे में एएमयू प्रशासन द्वारा निलंबन वापसी के फैसले पर देशभर में विरोध के स्वर उठे कि आखिर देशविरोधी तत्वों के सामने एएमयू प्रशासन ने घुटने क्यों टेके।    ले..

जम्मू कश्मीर शहरी निकाय चुनाव प्रक्रिया खत्म, घाटी के 2 जिलों तक सिमटी पीडीपी और एनसी की राजनीतिक दुकान

 मंगलवार को जम्मू कश्मीर म्यूनिसिपल इलेक्शन के चौथे चरण के मतदान की समाप्ति के साथ ही उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला बैलेट बॉक्स में बंद हो गया। चौथे चरण में श्रीनगर में 4 प्रतिशत औऱ गांदरबल 11.3 प्रतिशत पोलिंग हुई। अब 20 अक्टूबर को मतगणना की जायेगी। जिसके लिए राज्य के तमाम 22 राज्यों में सुरक्षा और व्यवस्था से संबंधित तमाम व्यवस्था कर दी गई है।  जम्मू औऱ लद्दाख में भारी मतदान  जम्मू औऱ लद्दाख के ज्यादातर निकाय़ चुनावों की वोटिंग पहले दो चरणों में ही पूरी कर ली गई थी। जहां तमाम ..

उरी हमले की एक अनसुनी कहानी

वंश सलोत्रा उरी के आतंकवादी हमले में मारे गए हवलदार रवि पॉल का 10 साल का बेटा है ,वो इस बात को जानता है कि उसके पापा उरी में हुए आतंकवादी हमले में शहीद हो चुके हैं और अब कभी वापस लौटेंगे नहीं आएगें , पर उसकी आंखों में दर्द और हताशा की बजाए निडरता ही झलकती है। वंश कहता है कि वो अपने पापा की मौत का बदला लेने के लिए आर्मी ज्वाइन करना चाहता है, लेकिन डॉक्टर के तौर पर क्यों की उसके पापा चाहते थे कि वो डॉक्टर बने।रवि पॉल 10 डोगरा रेजिमेंट के उन 18 जवानों में से एक थे जो उरी के आतंकवादी हमले में शहीद हुए ..

कश्मीर घाटी में बीजेपी मारी बाज़ी, सकते में नेशनल कांफ्रेस और पीडीपी

 आतंक प्रभावित क्षेत्र में मतदान से पहले ही निर्विरोध जीते 5 कश्मीरी हिंदू उम्मीदवार जम्मूआतंक प्रभावित क्षेत्र में मतदान से पहले ही निर्विरोध जीते 5 कश्मीरी हिंदू उम्मीदवार कश्मीर में शहरी स्थानीय निकाय औऱ पंचायत चुनाव के शुरूआती दौर में बीजेपी तमाम विरोधी पार्टियों को पटखनी देती दिखाई दे रही है। कश्मीर घाटी के मुस्लिम बहुल और आतंक प्रभावित क्षेत्र में 5 कश्मीरी हिंदू उम्मीदवारों को निर्विरोध विजयी घोषित कर दिया गया। जीतने वालों में अचबल से ऱिषभ वली और उर्मिला वली, देवसर से सतीश कुमार जुत्शी ..